नहीं रही दुमका की बेटी अंकिता, एक तरफा प्यार में शाहरुख ने पेट्रोल छिड़कर जला दिया था जिंदा

ख़बर शेयर करें

दुमका जिले के नगर थाना क्षेत्र की जरूवाडीह निवासी अंकिता कुमारी का रांची में मौत हो गई. अंकिता को शाहरुख नामक युवक ने जिंदा जला दिया था, जिसकी वजह से वह गंभीर रूप से घायल हो गई थी. शाहरुख नामक युवक ने पेट्रोल छिड़ककर आग लगा दिया था. इस घटना से 12वीं में पढ़ने वाली छात्रा अंकिता कुमारी का सिर्फ यही गलती था कि उसने उस एक के प्यार को ठुकरा दिया था उससे बात करने से इंकार कर दी थी. इस घटना में वे गंभीर रूप से घायल हो गई थी. अंकिता को बेहतर इलाज के लिए रिम्स रांची में भर्ती कराया गया था जहां उसकी इलाज के दौरान रविवार को मौत हो गयी.

22 दिन पहले आरोपी ने पीड़िता के घर पर किया था पत्थरबाजी

दुमका जिले के टाउन थाना में सनकी आशिक द्वारा बीते मंगलवार को पेट्रोल डालकर जिंदा जलायी गयी अंकिता को बेहतर इलाज के लिये रांची स्थित रिम्स के बर्न वार्ड में भर्ती कराया गया. जहां उसका इलाज चल रहा है. घटना के बाद दुमका के फूलो झानो मेडिकल कॉलेज हॉस्पीटल में भर्ती किया गया था. जहां से रिम्स रेफर किया गया था. अंकित के साथ आये परिजन अविनाश ने बताया था कि करीब 22 दिन पूर्व आरोपी द्वारा अंकित के घर पर पत्थरबाजी की गयी थी, इसमें खिड़की के शीशे टूट गये थे. मामले की जानकारी आरोपी के परिजनों को भी दी गयी थी. इसके बाद भी लगातार तंग किया जा रहा था. घटना से दो दिन पूर्व अंकिता ने फोन पर आरोपी द्वारा तंग किये जाने की जानकारी दी थी. अंकिता दो बहन और एक भाई है, बहन बड़ी है, जबकि भाई छोटा है. पिता मार्केटिग का काम करते है. जबकि अंकिता की मां करीब डेढ़ वर्ष पहले गुजर गयी थी.

क्या है मामला

बीते मंगलवार को इंटर की छात्रा अंकिता को आरोपी शारुख हुसैन ने इसलिए आग के हवाले कर दिया. क्योंकि पीड़ित छात्रा ने उससे दोस्ती करने से इनकार कर दिया था. आरोपी पड़ोस का ही रहने वाला है. आरोपी घर से निकलने पर पीड़िता को तंग किया करता था. पीड़िता को आरोपी कई दिनों से परेशान कर रहा था, आरोपी शाहरुख हुसैन पीड़िता के सहेली से मोबाइल नंबर जुगाड़ कर लगातार फोन कर दोस्ती करने का दबाब देता था. लेकिन पीड़ित नाबालिग ने दोस्ती करने से इंकार कर दिया. इसके बाद सोमवार को जान से मारने की धमकी दी थी. मंगलवार को जब छात्रा अपने घर में सोई हुई थी, इसी दौरान अहले शाहरुख उसके घर पहुंचा और खिड़की से उस पर पेट्रोल डाल माचिस मार जला कर उसे आग के हवाले कर दिया. आनन-फानन में उसे हॉस्पीटल ले दुमका स्थित हॉस्पीटल ले जाया गया. जहां से बेहतर इलाज के लिये रिम्स रेफर कर दिया. वही टाउन थाना पुलिस मामले की गंभीरता को देखते हुए आरोपी को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया.

Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.