बड़ी खबर -धोखाधड़ी की धाराओं के साथ सारा इंडिया के चेयरमैन समेत कई पर मुकदमा दर्ज

ख़बर शेयर करें

सहारा इंडिया की चार सोसायटी में लाखों रुपये के निवेश का भुगतान न होने से परेशान एक एजेंट ने पुलिस को तहरीर दी। पुलिस ने तहरीर के आधार पर सहारा इंडिया लखनऊ के चेयरमैन सुब्रत राय समेत 14 लोगों के खिलाफ धोखाधड़ी और अमानत में खयानत से संबंधित धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया है।

पौड़ी गढ़वाल के द्वारीखाल ब्लॉक के कलोड़ी गांव निवासी नरेंद्र सिंह नेगी ने सोमवार को कोतवाली में तहरीर देकर बताया कि उन्होंने सहारा इंडिया की सहारा क्रेडिट कोऑपरेटिव सोसायटी, हमारा इंडिया क्रेडिट सोसायटी, सहारियन यूनिवर्सल मल्टी परपज सोसायटी और स्टार मल्टी परपज सोसायटी में लोगों से लाखों रुपये का निवेश करवाया था।

लेकिन अब सोसायटी के अधिकारी चारों सोसायटी में निवेश की गई रकम का भुगतान नहीं कर रहे हैं। बताया कि वह जब भी सोसायटी के कार्यालय में जाते हैं तो उन्हें न्यायालय में मामला विचाराधीन होने का हवाला देकर भुगतान से मना कर दिया जाता है।

नरेंद्र सिंह नेगी ने बताया कि न्यायालय ने सहारा इंडिया की सोसायटियों में रुपये जमा करने में रोक लगाई है, भुगतान पर किसी तरह का प्रतिबंध नहीं है। शिकायतकर्ता ने पुलिस को निवेशकों की सूची भी दी। एजेंट ने सहारा इंडिया के चेयरमैन समेत 14 लोगों पर धोखाधड़ी और भुगतान की रकम वापस न देने पर कार्रवाई की मांग की।

कोतवाली प्रभारी खुशीराम पांडे ने बताया कि तहरीर के आधार पर पुलिस ने सहारा इंडिया लखनऊ के चेयरमैन सुब्रत राय, वाइस चेयरमैन स्वप्ना राय, प्रबंध निदेशक लखनऊ ओपी श्रीवास्तव, निदेशक लखनऊ डीके श्रीवास्तव, निदेशक करुणेश अवस्थी, निदेशक सुधीर श्रीवास्तव, टेरिटरी प्रमुख लखनऊ प्रशांत शर्मा, जोनल चीफ नोएडा गणेश पांडेय, रीजनल मैनेजर देहरादून जगदीश सिंह चौहान, रीजनल एडवाइजर गुरप्रीत सिंह, जूनियर प्रोग्रामर मोहम्मद वसीम, कैशियर पवन कुमार, गोविंद वल्लभ और अंकित कुमार सैनी, ऋषिकेश देहरादून के खिलाफ धोखाधड़ी और अमानत में खयानत से संबंधित धाराओं में मुकदमा दर्ज कर लिया है। उन्होंने बताया कि मामले की जांच की जा रही है।

Ad Ad Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.