उत्तराखंडी संगीत को एक बड़ा झटका – मेरी बामणी गाने के गायक नवीन सेमवाल का……

ख़बर शेयर करें

रुद्रप्रयाग एसकेटी डॉट कॉम

उत्तराखंड के लोक संगीत को आज प्रातः मंगलवार उस समय बड़ा झटका लगा जब शुद्ध लोक गायक ऑन रंगकर्मी नवीन सेमवाल का 44 वर्ष की आयु में असामयिक निधन हो गया

उनके निधन से रंगमंच और लोक कला का एक धूम केतु की तरह चमकता सितारा खो गया. जानकारी के अनुसार रुद्रप्रयाग जिले के निवासी सेमवाल विगत कई दिनों से बीमार थे और अपना उपचार करा रहे थे. उन्होंने अपने इस जीवन मृत्यु के संघर्ष में आज प्रातः दम तोड़ दिया.

सेमवाल ने लोक गायकी के अलावा रंगकर्म रंगमंच पर भी कई नाटक प्रस्तुत किये. जोगी लोगों के जेहन में हमेशा याद रहेंगे. उन्होंने हेमा नेगी करासी के साथ मेरी बामणी गढ़वाल जैसा गढ़वाली लोकप्रिय गीत गाया जो बुलंदियों की ऊंचाई तक छाता गया. आज भी लोग उनकी इस गानों को बड़े चाव के साथ देखते और सुनते हैं. उन्होंने थिएटर में मुंबई दिल्ली समेत कई स्थानों पर अपने कार्यक्रम प्रस्तुत किए

वहीँ संगीत जगत से गायिका हेमा नेगी करासी, सौरभ मैठाणी, संजय भंडारी एवं तमाम गायक एवं गायिका ने उनके आसमयिक निधन पर गहरा दुःख व्यक्त किया.

Ad
Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.