यशवंत सिन्हा ने द्रोपदी से माँगा वचन क्या मांगा पढ़ें खबर

ख़बर शेयर करें

हल्द्वानी/ रांची/ नई दिल्ली एसकेटी डॉट कॉम

विपक्षी दलों के संयुक्त उम्मीदवार पूर्व आईएएस पूर्व कैबिनेट मंत्री यशवंत सिन्हा ने राजग की राष्ट्रपति पद के लिए उम्मीदवार द्रौपदी मुरमू से उनसे एक वादा करने की मांग की है कि वह सिर्फ और सिर्फ रबर स्टैंप को बन कर ना रहेंगी बल्कि संविधान और लोकतंत्र के लिए ही कार्य करेंगी.

द्रोपदी को को आदिवासी क्षेत्र की निवासी होने के साथ ही महिला होने का लाभ भी चुनाव में मिल सकता है.

द्रौपदी मुरमू आज रांची के दौरे पर जाएंगी वह राष्ट्रपति चुनाव के के लिए भाजपा के अलावा अन्य सभी दलों से समर्थन की अपील करेंगी .

इसके अलावा यह भी संभावना है कि आदिवासी होने की वजह से झारखंड की हेमंत सोरेन सरकार उनके नाम के समर्थन की घोषणा कर सकते हैं इसी विपक्ष की एकता पर निश्चित रूप से दरार पड़ने की संभावना भी बढ़ गई है हालांकि विपक्षी पार्टियों के उम्मीदवार के रूप में यशवंत सिन्हा ने भी हेमंत सोरेन से समर्थन देने की बात कही है

इधर यशवंत सिन्हा को द्रोपदी के पक्ष में मिल रहे समर्थन से यह आभास होने लगा है कि निश्चित रूप से बड़ा बढ़त क़ी और अग्रसर हैं. इसीलिए उन्होंने पाशा फेंकते हुए द्रोपदी को एक सवाल किया है और उनसे वादा मांगा है कि वह लोकतंत्र सिर्फ और संविधान के प्रति जवाबदेह रहेंगी उन्होंने यह भी कहा कि न्यायपालिका के खिलाफ लगाया जाए आरोपों से उन्हें चिंता हो रही है ध्रुव जी से कहा कि वह उनसे वादा करें कि वह रबर स्टैंप राष्ट्रपति बनकर नहीं रहेंगी.

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.