कांवड़ियों के दो गुटों में खूनी संघर्ष, सेना के जवान की मौत

ख़बर शेयर करें



कांवड़ यात्रा के अंतिम दिन मंगलवार को रुड़की के नगला इमरती में कांवड़ियों के दो गुटों के संघर्ष में एक शख्स की मौत हो गई। मरने वाला सेना का जवान था और कांवड़ लेकर आया था।


बताया जा है कि मंगलवार को मुजफ्फरनगर के सिसौली कस्बे के कांवड़ियों का एक दल हरिद्वार आ रहा था। इसी दल में सेना का जवान कार्तिक भी शामिल था। कार्तिक चार साल पहले ही सेना में शामिल हुआ था। इस वक्त उसकी तैनाती गुजरात में थी। कांवड़ में जाने के लिए वो दो दिनों पहले ही छुट्टी लेकर घर आया था।


बताया जा रहा है कि मुजफ्फरनगर के कांवड़िया दल के साथ ही कार्तिक आगे बढ़ रहा था इसी बीच मंगलोर में नगला इमरती फ्लाईओवर के पास उनका सामना हरियाणा के कांवड़ियों के एक दल से हो गया। आगे निकलने की होड़ में इन दोनों कांवड़ियां दलों के बीच टकराव हो गया।


बताया जा रहा है कि कार्तिक का दल हरियाणा के कांवड़ दल से आगे निकल गया। इसी दौरान हरियाणा के कांवड़ियों ने कार्तिक के दल का रास्ता रोक लिया। इसके बाद दोनों गुटों में मारपीट हो गई। इसी मारपीट में कार्तिक की सिर पर डंडा लग गया और वो बेसुध होकर गिर पड़ा।


कार्तिक के दोस्त उसे लेकर पास के एक अस्पताल में ले गए। जहां से उसे सिविल अस्पताल रेफर किया गया। वहां डाक्टरों ने कार्तिक को मृत घोषित कर दिया।
कार्तिक की मौत के बाद उसके सिसौली कस्बे में हंगामा मच गया। पुलिस को सूचना दी गई। पुलिस ने हरियाणा के कांवड़ियों को मुजफ्फरनगर की तरफ भागते हुए पकड़ लिया। पांच कांवड़ियों को हिरासत में लिया गया। सभी पर गैर इरादतन हत्या का मुकदमा दर्ज किया गया है।

Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.