सर्विस चार्ज खत्म होने के साथ ही ट्रेनों में सस्ता मिलेगा यह सामान, जानिए नई दर

ख़बर शेयर करें

रेलवे में यात्रा के दौरान खाने पीने के सामानों में वेंडरों के द्वारा ज्यादा किराया लेने की खबरें मीडिया की सुर्खियां बनती रही है. साथ ही साथ IRCTC को ट्विट के माध्यम से भी यात्रियों के द्वारा शिकायत किया जाता रहा है. लेकिन अब इसको लेकर रेल मंत्रालय ने की तरफ से गाइडलाइन जारी कर दिया गया है. जिसमें यह कहा जा रहा है कि प्रीमियम ट्रोनों में लगने वाले सर्विस चार्ज को हटा दिया गया है. अब आप इन प्रिमियम ट्रेनों में यात्रा करते हैं तो यात्रा के दौरान चाय, नाश्ता आपको सस्ता मिल सकता है. बता दें कि पहले रेलवे सर्विस चार्ज के रूप में ट्रेनों में यात्रा के नाम पर 50 रुपये की वसूली करती थी. यही वह कारण है कि रेलवे में यात्रा के दौरान आपसे 20 रुपये की चाय 70 रुपये में मिलती थी.

रेलवे के नए नियम के अनुसार यह बताया गया है कि यात्रियों से पहले से सर्विस चार्ज नहीं वसूला जाएगा. बता दें कि अगर यूजर टिकट की बुकिंग के दौरान खाने का चयन करता है तो आपको 50 रुपये सर्विस चार्ज नहीं देना होगा. इसका मतलब हुआ कि ट्रेन में अगर आप सफर कर रहे हैं और आप चाय पीना चाहते हैं तो अब आपको सस्ती चाय मिलेगी. लेकिन अगर आप ट्रेन में नास्ता या फिर खाना खाते हैं तो आपको 50 रुपया सर्विस चार्ज के रूप मेंदेना होगा. आपको बता दें कि नया नियम लागू होने से पहले कई ऐसी प्रिमियम ट्रेनें थी जिसमें यात्रियों को 50 रुपया देना पड़ता था. जैसे कि राजधानी, दूरंतों, शताब्दी और बंदे भारत ट्रेनों में पहले 20 रुपये की चाय पीने के लिए आपको 70 रुपये देने पड़ते थे. लेकिन नाश्ते और खाने में अभी भी आपको सर्विस चार्ज देना होगा.

अगर आप Capital, Duronto and Shatabdi जैसी ट्रेनों में एक्सजीक्यूटिव एसी चेयर कार में यात्रा कर रहे हैं तो आपको सुबह की चाय 35 रुपये में मिलेगी जबकि आप थर्ड, सेकेंड और चेयर कार में यात्रा कर रहे हैं तो इन यात्रियों को 20 रुपये में चाय मिलेगी. इसके साथ ही Breakfast, Lunch Dinner and Snacks के लिए 90 रुपये से आपको 295 रुपये का चार्ज वसूला जाएगा.

बता दें कि दूरंतों ट्रेन में यात्रियों को चाय के लिए 15 रुपये लिया जाएगा जबकि नाश्ते और खाने के लिए उन्हें 65 से 170 रुपये देने होंगे. आपको बता दें कि तेजस ट्रेन में चा नहीं दी जाएगी. लेकिन नाश्ते और खाने के लिए 105 रुपये से 295 रुपये तक देने होंगे. वहीं बंदे भारत के यात्रियों को यात्रा के दौरान 15 रुपये में चाय मिल जाएगी. जबकि नाश्ते और खाने के लिए 66 रुपये से लेकर 394 रुपये तक का किराया देना होगा. साथ ही यह भी बताया जा रहा है कि ट्रेन लेट होने पर चाय और पानी 8 रुपये में दिया जाएगा जबकि ब्रेक फास्ट और लंच के लिए 30 रुपये का चार्ज किया जाएगा.

आपको बता दें कि भारत सरकार की उपभोक्ता मामले के मंत्रालय ने एक आदेश जारी किया था जिसमें सेवा शुल्क की मांग करने को अनुचित व्यवहार के रूप में बताया था. जिसमें उन्होंने कहा था कि कोई भी होटल या रेस्तरां या फिर किसी अन्य संस्था द्वारा कोई भी अगर सेवा शुल्क लेता है तो यह गलत है. यह शुल्क नहीं लेना चाहिए. इधर सेंट्रल कंज्यूमर प्रोटेक्शन अथॉरिटी यानी कि CCPA ने सर्विस चार्ज को लेकर नए नियम बनाए थे. इधर CCPA ने यह भी कहा है कि आप किसी भी बिल में स्वतः सर्विस चार्ज नहीं लगा सकते हैं. यानी कि कोई भी होटल और रेस्टोरेंट में कोई भी ग्राहक को सर्विस चार्ज नहीं बसूल सकता है. ऐसे में अब ट्रेनों में भी इस नियम को लागू कर दिया गया है जिसके बाद से यात्रियों को लाभ मिलने वाला है.

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.