यहां सरकारी जमीन को भू माफिया ने अपने नाम करवाया दर्ज

ख़बर शेयर करें

भू-माफिया जमीनों के नाम पर जहां लोगों को लाखों-करोड़ों की चपत लगाते हैं। वहीं, राजस्व विभाग की जमीनों का हड़पकर सरकार को भी नुकसान पहुंचाते हैं। बावजूद माफिया के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है। काशीपुर में भी कुछ ऐसा ही हो रहा है। प्राधिकरण और प्रशास माफिया के आगे नतमस्तक नजर आ रहा है। भू-माफिया ने राजस्व अभिलेखों के साथ छेड़छाड़ कर सरकारी जमीन को भूमिधरी में दर्ज करा लिया।


दरअसल, राजस्व अभिलेखों के आधार पर दर्ज सरकारी भूमि या यूं कहें कि नान जेड ए, ग्राम समाज, खंती की भूमि जो किसी दूसरे के नाम पर दर्ज नहीं हो सकती है। एसी जमीनों को फर्जी तरीके से ट्रांसफर कर दी गयी है। ये खेल सिर्फ भूमाफिया ने अकेले नहीं खेला। बल्कि, राजस्व अभिलेखों के साथ खिलवाड़ बिना मिलीभगत के नहीं हुआ होगा। यही नहीं सरकारी तंत्र की लचर व्यवस्था का फायदा उठाते हुए माफिया ने सरकारी भूमि को अपने नाम दर्ज कर वहां अवैध निर्माण भी शुरू कर दिया है।


लेकिन, तहसील कर्मचारी हों या फिर प्रशासनिक अमला। अपनी कुर्सियों से हिलने को तैयार नहीं हैं। इस बारे में जब स्थानीय व्यापारी ने शिकायत दर्ज की तो उनकी शिकायत भी फाइलों में दब कर ही रह गई। अधिकारियों की मानें तो शिकायतों के आधार पर कार्रवाई की जा रही है, जिसमें कई अवैध रूप से बनने वाली अवैध कालोनियों पर भी प्रशासन ने शिकंजा कसा है। यही नहीं एसडीएम का कहना है कि जल्द ही प्रशासन नियम विरुद्ध बनने वाली कॉलोनियां और निर्माण कार्यों पर बड़ा एक्शन लेगा।

Ad
Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.