हल्द्वानी कोतवाली में बना कुमाऊं का पहला बाल मित्र थाना

Ad
ख़बर शेयर करें

अंकुर सक्सेना।हल्द्वानी कोतवाली परिसर में आज कुमाऊं डीआईजी नीलेश आनंद भरणे के द्वारा कुमाऊ के पहले बालमित्र पुलिस थाने का उद्घाटन किया गया, बता दें कि इस थाने का निर्माण उत्तराखंड बाल अधिकार संरक्षण आयोग के दिशा-निर्देशों एवं मानकों के अनुसार किया गया है और उनका उद्देश्य किसी वजह से पुलिस थाने में आने वाले बच्चों के मानसिक तनाव को कम करना है और जो बच्चे अनजाने में गलत रास्ते पर चले जा रहे हैं उन बच्चों को सही रास्ते पर लाने के लिए दिशा प्रदान किया जाना है नहीं इस बार मित्र थाने में एक महिला एसआई दीपक जोशी और महिला पुलिस कर्मी की नियुक्ति की गई है एवं बाल आयोग के सदस्य व बेहतर काउंसलर उपलब्ध होंगे। जो कि बच्चों की काउंसलिंग कर उन्हें अपराध से दूर रखने की कोशिश करेंगे।

यहां बच्चों की सुविधा और उनके खेलने के लिए झूलों और खिलौनों की व्यवस्था की गई है। बता दें कि इस बालमित्र थाने में पुलिस के द्वारा बच्चों के गुड टच एवम बेड टच के बारे में बताया जाएगा।और अधिकारियों ने किशोर न्याय अधिनियम 2015 (बच्चों की देखभाल एवं संरक्षण) के अनुरूप कार्यवाही करने और बच्चों के हित में अपनी भूमिका निभानी है। इसके तहत यह सुनिश्चित किया जायेगा कि बच्चों के साथ थानों में मित्रवत व्यवहार किया जायेगा और उनके हितों को प्राथमिकता दी जायेगी।

इस बाल मित्र थाने में सीआइडी और यूनिसेफ के द्वारा बाल मित्र थाना के लिए 21 मानक बनाये गये हैं।इस उद्घाटन के दौरान प्रीति प्रियदर्शिनी (आईपीएस) वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक नैनीताल, डॉ जगदीश चंद्र अपर पुलिस अधीक्षक नगर हल्द्वानी, सर्वेश पवार एएसपी(क्षेत्राधिकारी लालकुआं नैनीताल),

प्रमोद कुमार साह क्षेत्राधिकारी यातायात, शांतनु पाराशर क्षेत्राधिकारी हल्द्वानी, व्योमा जैन महिला एवं बाल विकास अधिकारी जनपद नैनीताल, आदि लोग मौजूट रहे।

सहायता हेतु–1098, 112
जिला बाल संरक्षण समिति हल्द्वानी के न०–9756490227
तथा बाल कल्याण समिति न०–9557761277 उपलब्ध है।

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *