स0 प्रताप सिंह को मिली बड़ी जिम्मेदारी,किसान उत्त्साहित

Ad
ख़बर शेयर करें

हल्द्वानी/ रुद्रपुर एसकेटी डॉटकॉम

गन्ना किसानों के लिए एक बहुत बड़ी खुशखबरी आई है उनके बीच का एक किसान अब उनके हको की पैरवी सरकार के सामने करेग। किसानों को उनके गन्ने की उचित कीमत तय करने वाली सर्वोच्च नीति निर्धारण कमेटी में इस किसान नेता को सरकार ने नामित किया। यह नेता हल्द्वानी गन्ना समिति के चेयरमैन सरदार प्रताप सिंह है।

सरदार प्रताप सिंह जो कि लामाचौड के निवासी हैं उन्हें प्रदेश की चीनी मिलों के लिए खरीदे जाने वाले गन्ने की कीमत ताई करने वाली समिति में स्थान दिया गया है गन्ना आयुक्त के द्वारा जारी एक विज्ञप्ति में सरदार प्रताप सिंह को इस सर्वोच्च समिति में स्थान दिया गया है।

पूरे प्रदेश में सिर्फ जनता जनता एवं किसान को से जुड़े दो प्रतिनिधियों को ही इस समिति में रखा गया है जिसमें सबसे पहला नाम सरदार प्रताप सिंह का है। प्रताप सिंह कई वर्षों से क्षेत्रीय लोगों को गेहूं गन्ना उड़द तथा दलहन के सर्वोच्च गुणवत्ता वाले बीज उपलब्ध कराते आए हैं। उनके यहां से नैनीताल जिले के अलावा इस से लगे हुए तारा एवं भावर के लोग बीज एवं खाद ले जाते हैं। सरदार प्रताप सिंह विगत कई वर्षों से किसानों के लिए उनकी आवाज बने हुए थे उन्होंने कई मौकों पर शासन में किसानों की समस्याओं को उठा कर मौके पर ही निस्तारित करवाया है।

गन्ना किसानों के चेहते प्रताप सिंह इससे पूर्व डायरेक्टर भी रह चुके हैं और इस बार उनकी पत्नी सरदारनी मनजीत पर भी डायरेक्टर है सरदार प्रताप सिंह को हल्द्वानी नैनीताल जिले के किसानों ने निर्विरोध चेयरमैन के पद पर निर्वाचित किया है के इस सर्वोच्च मूल्य निर्धारित करने वाली समिति में मुख्य भूमिका में आने से तराई भाबर के किसानों में उत्साह है।

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *