प्रातः वाक करने की मुहिम शुरू करने के लिए संकल्प

ख़बर शेयर करें

इस प्रेरणा के सूत्र 84 वर्षीय दीवान सिंह को किया सम्मानित

Ad
Ad

वन्य जीव के लिए पानी का पोखर बनाने का नियम निर्णय

Haldwani skt. com

वॉक ग्रुप हैड़ाखान रोड के सदस्यों द्वारा गंगा दशहरा के शुभ अवसर पर हैड़ाखान रोड स्थित दो किलोमीटर माइलस्टोन में वरिष्ठ नागरिकों के सम्मान में एक सभा का आयोजन किया गया,। जिसमें मुख्य अतिथि कांग्रेस के प्रदेश प्रवक्ता दीपक बल्यूटिया रहे।


इस अवसर पर समिति के सभी सदस्यों द्वारा पर्यावरण, वन, जल, हिमालय, हिमालय संरक्षण का संकल्प लिया गया। इस कार्यक्रम में समिति के सदस्यों द्वारा कई वरिष्ठ नागरिकों, जो लोगों को सुबह घूमने के लिए प्रेरित करते हैं का सम्मान किया गया, ।

जिसमें प्रमुख रूप से 84 वर्ष की आयु के दीवान सिंह जो कि भारतीय सेवा से सेवानिवृत्ति है को अंग वस्त्र,स्मृति चिन्ह एवं सम्मान पत्र देकर सम्मानित किया गया इनके अतिरिक्त सरदार जीत सिंह, सरदार नानक सिंह अधिवक्ता एवं पूर्व (जी डी सी उधम सिंह नगर), बी डी पांडे एवं प्रमुख होटल व्यवसाय श्री मनमोहन सिंह बिष्ट को भी समाज में उनके उल्लेखनीय योगदान के लिए सम्मानित किया गया। समिति के सदस्यों द्वारा उत्तराखंड की प्रथम पैरा ओलंपिक खिलाड़ी सरिता बल्यूटिया को भी सम्मानित किया गया।


सभा में अपने विचार रखते हुए समिति के सचिव श्री एन डी तिवारी ने बताया कि दीवान सिंह जी की प्रेरणा से नई पीढ़ी समग्र स्वास्थ्य के साथ अपने व्यक्तित्व का निर्माण भी कर रही है, कुमाऊं ट्रांसपोर्टर यूनियन के प्रदेश प्रवक्ता हरजीत सिंह चड्ढा ने कहा कि प्रातः कालीन भ्रमण को एक आंदोलन के रूप में व्यापक पहचान दिलाने में इन सब वरिष्ठ जनों के भागीरथ प्रयासों की लिए हम इनकी हृदय की गहराइयों से सराहना करते हैं, सभा में अपने विचार रखते हुए वरिष्ठ आयकर अधिकारी धीरज कुमार कहा गया कि इन सब वरिष्ठ लोगों का अनुकरण करते हुए नई पीढ़ी के लोग समाज में स्वास्थ्य, स्वच्छता, पर्यावरण संरक्षण द्वारा जनचेतना की अलग जगते हुए को समाज को प्रेरित कर रहे हैं। हैड़ाखान रोड में इस भीषण गर्मी में जंगली जानवरों के लिए एक जल कुंड का निर्माण करवाने पर समिति के सदस्य द्वारा श्री महेश बिष्ट को भी पुष्पगुच्छ देकर सम्मानित किया गया।


इस सभा का संचालन हरजीत सिंह चड्ढा (सोनू) ने किया,
सभा में प्रमुख रूप से गौरव महतोलिया, ललित कर्नाटक, अतुल महेश्वरी, मनीष गौड़, के डी उपाध्याय के अलावा सैकड़ो की संख्या में महिलाएं, पुरुष एवं बच्चे उपस्थित थे।