मेडिकल काॅलेज के लेक्चर थियेटर में कोविड-19 में आपातकालीन प्रबंधन पर प्रशिक्षण कार्यशाला का हुआ आयोजन

ख़बर शेयर करें

मंगलवार को राजकीय मेडिकल काॅलेज हल्द्वानी तथा राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के तत्वाधान में राजकीय मेडिकल काॅलेज हल्द्वानी के लेक्चर थियेटर में कोविड-19 में आपातकालीन प्रबंधन पर प्रशिक्षण कार्यशाला का आयोजन हुआ । प्रशिक्षण कार्यशाला का शुभारंभ डा0 अरूण जोशी प्राचार्य राजकीय मेडिकल काॅलेज द्वारा किया गया।


प्रशिक्षण कार्यशाला में एनेस्थीसिया विभाग के चिकित्सकों ने कोविड-19 के अतिरिक्त वेंटिलेटर तथा एयरवे प्रबंधन व सीपीआर का प्रशिक्षण दिया। मेडिसन विभाग के डा0 परमजीत सिंह व डा0 नताशा ने कोविड की नवीनतम जानकारी से प्रतिभागियों को रूबरू करवाया। बाल रोग विभाग की डा0 रितु रखोलिया व एनेस्थीसिया विभाग के डा0 हेम ने आॅक्सीजन के उपयोग व उपकरणों पर विस्तार से जानकारी दी।


एनेस्थीसिया विभाग के डा0 नम्रता व डा0 दीप ने कोविड के दौरान प्रशामक तथा मानसिक उपचार पर जानकारी दी। डा0 शैलेश ने वेंटीलेटर के उपयोग के बारे में प्रशिक्षुओं को अवगत कराया। नर्सिग काॅलेज की रमा पांडे ने उपकरणों के रखरखाव व कोविड में नर्सिग के महत्व पर विस्तार से प्रकाश डाला। डा0 नीलम, डा0 प्रियंका, डा0 सानिया व सतीश ने नर्सिंग स्टाफ, जूनियर रेसिडेंट तथा प्रशिक्षुओं को सीपीआर व एयरवे के विभिन्न उपकरणों के उपयोग का प्रशिक्षण व सम्पूर्ण जानकारी को दिया।


कार्यक्रम में एनेस्थिीसिया विभाग की विभागाध्यक्ष डा0 उर्मिला पलड़िया ने बताया कि भारत में प्रति 90 सेकेन्डस में प्रति व्यक्ति की मृत्यु हृदय गति रूकने से होती है क्रिटिल केयर की पूर्ण जानकारी न हो तों मरीजों को बचाया जाना अति कठिन होता हैे। कार्डियों पल्मोनरी रेसुसिटेशन (सी0पी0आर0)के माध्यम से यह जानकारी दी जाती है कि ऐसे मरीज को तत्काल लाईफ सपोर्ट दिया जाये क्योंकि दिल का दौर पड़ने पर पहले एक घंटे को गोल्डन आॅवर माना जाता है। इसी गोल्डन आॅवर में हम मरीज की जान बचा सकते है। कभी -कभी एम्बुलेन्स या मेडिकल सुविधा किसी कारण जल्द उपलब्ध नहीं होती ऐसे समय में हमे पता होना (सी0पी0आर0) क्या है इसे कैसे करे ताकि मरीज की जान बचाई जा सके। इस कार्यशाला के माध्यम से प्रत्येक वर्ग के व्यक्ति को सी0पी0आर0 विधि के बारे में अवगत कराना है।


डा0 अरूण जोशी प्राचार्य राजकीय मेडिकल काॅलेज ने कहा एनेस्थिसिया विभाग के द्वारा आयोजित कार्यशाला से सभी वर्ग के लोगों को इसका लाभ मिलेगा यह एक सराहनीय कार्य है तथा एम0बी0बीएस0 व एम0डी/एम0एस के छात्रों को चिकित्सा की शिक्षा व शोध करने में लाभकारी होगा। कार्यक्रम का संचालन डा0 उर्मिला पलड़िया विभागाध्यक्ष एनेस्थीसिया विभाग द्वारा किया गया।


इस अवसर पर डा0 अरूण जोशी प्राचार्य राजकीय मेडिकल काॅलेज, डा0 विवेकानंद सत्यवली चिकित्सा अधीक्षक डा0 सुशीला तिवारी राजकीय चिकित्सालय, डा0 उर्मिला पलड़िया विभागाध्यक्ष एनेस्थीसिया विभाग, डा0 ए0के सिन्हा, डा0 परमजीत सिंह, डा रितु रखोलिया, डा0 नताशा, डा0 हेम, डा0 नम्रता, डा0 शैलेश लोहनी, डा0 दीप, डा0 प्रियंका, डा0 नीलम, डा0 सानिया, डा0 सतीश, जी0बी0 मौल टी मैथ्यू नर्सिग सुपरिटेंडेन्ट समेत नर्सिग स्टाफ मौजूद था।

Ad
Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.