ऑल वेदर रोड के नारों के बीच पहाड़ो मे पत्थरो कि बरसात, यहाँबस का शीशा तोड़कर अंदर घुसा बोल्डर एक की मौत

ख़बर शेयर करें

उखीमठ एसकेटी डॉट कॉम

सरकार चार धाम मार्गों के लिए ऑल वेदर रोड की कहानी कहते कहते नहीं थक रही है लेकिन लोगों को ऐसी सड़कों से दुर्घटनाओं का शिकार होना पड़ रहा है ऐसा ही एक मामला रुद्रप्रयाग गौरीकुंड राजमार्ग के काकड़ागाड़ के समीप घटा जहां एक बोल्डर पहाड़ी से गिरा और केदारनाथ जा रही बस के के आगे का शीशा तोड़कर अंदर घुस गया बस मैं आगे से बैठे दो लोग चोटिल हो गए इनमें से एक व्यक्ति ने अस्पताल पहुंचने पर दम तोड़ दिया l जबकि दूसरे घायल का अगस्त मुनि सीएचसी मैं उपचार चल रहा है l

जानकारी के मुताबिक रविवार सुबह रुद्रप्रयाग-गौरीकुंड राजमार्ग पर काकड़ागाड़ के समीप यात्री वाहन का शीशा तोड़कर अंदर घुसे पत्थर से एक यात्री की मौत हो गई। जबकि एक यात्री घायल हो गया। एंबुलेंस से घायल को सीएचसी अगस्त्यमुनि में भर्ती किया। जहां प्राथमिक उपचार के बाद उसे हायर सेंटर रेफर कर दिया गया है।


बस चालक की सूझबूझ से बड़ा हादसा टल गया। वाहन में 20 यात्री सवार थे, जो बाबा केदार के दर्शनों के लिए केदारनाथ जा रहे थे। रविवार सुबह काकड़ागाड़ के करीब पहाड़ी से पत्थर गिर रहे थे। इसी दौरान एक पत्थर वाहन के आगे के शीशे को तोड़कर सीधे अंदर जा घुसा, जिससे आगे की सीट पर बैठे दो यात्री आकाश मलिक (26) पुत्र महेश मलिक, निवासी झांसी उत्तर प्रदेश और अमर सिंह (28) पुत्र केवल सिंह, निवासी धामपुर, जिला बिजनौर गंभीर रूप से घायल हो गए।


सूचना पर मौके ऊखीमठ के थाना प्रभारी रवींद्र कौशल मय फोर्स मौके पर पहुंचे और घायलों को 108 एंबुलेंस से सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र अगस्त्यमुनि के लिए भेजा गया, लेकिन अमर सिंह ने रास्ते में ही दम तोड़ दिया। गंभीर रूप से घायल आकाश को प्राथमिक उपचार के बाद पहले जिला चिकित्सालय व वहां से हायर सेंटर रेफर कर दिया गया है।


चालक अनिल प्रसाद ने आगे के शीशे से पत्थर के अंदर घुसने पर भी सूझबूझ से वाहन को नीचे की तरफ नाली में धकेल दिया, जिससे अन्य यात्री सुरक्षित बच गए। पुलिस ने मृतक यात्री के शव का पंचनामा भरकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है।

Ad
Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.