आग के प्रकोप से गरीब हुआ बेघर लाखों का सामान भी जला

ख़बर शेयर करें


हल्दूचौड़। झोपड़ी में आग लगने से घर में रखी नगदी, सोने के जेवरात सहित लाखों रुपये का घर का सामान जलकर राख हो गया। आग से गांव में भगदड़ मच गई। लोगों ने आग बुझाने का प्रयास किया, लेकिन जब तक आग पर काबू पाया जाता तब तक सब कुछ जल चुका था। ग्रामीणों की सूचना के बाद मौके पर पहुँची फायर विग्रेड ने बमुश्किल आग पर काबू पाया। आग लगने का कारण पता नहीं चल पा रहा है।ग्राम धनपुर में भाष्कर कबड़वाल के घर में कई वर्षों से रह रहे बटाईदार सोमपाल पुत्र झाझन लाल मूल निवाशी गोपालपुर कनमन बरेली अपने बेटे बहु व पत्नी के साथ रहकर बटाई का कार्य करता था और यहीं झोपड़ी बनाकर रहता था सोमवार दोपहर अचानक अज्ञात कारणों से उसकी झोपड़ी में आग लग गई। आग ने जल्दी ही विकराल रूप धारण कर लिया। आग की लपटों ने झोपड़ी को अपनी चपेट में ले लिया। आग से परिजनों व आसपास के लोगों में भगदड़ मच गई। जब तक परिवार के लोग व गांव के लोग आग बुझाने का प्रयास करते तब घर में रखे 32 हजार रुपये की नकदी व सोमपाल की बहू का लगभग एक तौला जेवर राशन आदि जरूरत की सभी चीजें राख में तब्दील हो गयी। ग्रामीणों ने इसकी सूचना फायर बिग्रेड को दी सूचना पर पहुंची पुलिस व दमकल कर्मियों ने बमुश्किल आग पर काबू पाया किन्तु तब तक झोपड़ी जलकर राख हो चुकी थी।


पीड़ित सोमपाल ने बताया कि आग से उसकी झोपड़ी में रखी 35 हजार की नगदी व बहु का एक तोला सोने का जेवर अनाज सहित सभी घरेलू सामान सहित करीब एक लाख से ज्यादा का नुकसान हुआ है ।सोमपाल के घर का पूरा सामान जल जाने से उसके पास खाने व पहनने तक के वस्त्र तक नहीं रह गए हैं। सोमपाल में मेहनत मजदूरी कर अपने परिवार का पालन-पोषण कर रहा था। कड़ी मेहनत से एकत्र की गई पूंजी पल भर में आग ने स्वाहा कर दिया। अब वह इस घटना को ईश्वर की देन मानते हुए अपने मन को समझाने का प्रयास कर रहा है।बताया जा रहा है घटना के समय सोमपाल का बेटा व बहु अपने गांव गए हुए थे।

Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *