कुमाऊं डीआईजी ने राहत बचाव के लिए हरिद्वार से 2 एसडीआरएफ की टीमें बुलाई

ख़बर शेयर करें

हल्द्वानी-यहां पर जिस प्रकार का जलस्तर बढ़ता जा रहा है बारिश की वजह से उसको देखते हुए डीआईजी कुमाऊं ने राहत बचाव के लिए हरिद्वार से एसडीआरएफ की दो टीमें बुलाई हैं। जो कि हल्द्वानी व रुद्रपुर में जल्द ही पहुंचेंगी।डीआईजी कार्यालय से मिली जानकारी के मुताबिक बताया जा रहा है कि हरिद्वार से दो एसडीआरएफ की टीमें रवाना हो चुकी हैं। डीआइजी डा. नीलेश आनंद भरणे ने बताया कि एक टीम रुद्रपुर व दूसरी हल्द्वानी में बचाव कार्य करेगी। गौरतलब है कि हल्द्वानी गौला नदी उफान पर होने से गौलापार पुल का बड़ा हिस्सा टूट गया है। इसके अलावा रुद्रपुर में भी इलाकों में पानी घुस गया है।नैनीताल हल्द्वानी हाइवे की हालत भी मलबे के कारण कुछ खास सही नहीं रह गई है। नैनीताल एसएसपी प्रीति प्रियदर्शिनी ने आपदा ग्रस्त मार्गो में जाकर हालातों का जायजा लिया है।

उन्होंने बताया कि कई पर्यटक रविवार की रात कई पर्यटक मार्गो पर फंस गए थे। जिन्हें सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया। उन्होंने स्थानीय लोगों व पर्यटकों से सेफ रहने की अपील की है।बता दें कि एसपी सिटी डा. जगदीश चंद्र ने गौला पुल का निरीक्षण किया। उन्होंने बताया पुल के दोनों ओर पुलिस कर्मी तैनात कर दिए हैं। पुल पर भारी खतरा बना हुआ है। उन्होंने लोगों से नदी के आसपास न जाने की अपील की है। गौरतलब है कि गौला नदी के उफान पर होने से लगातार खतरा मंडरा रहा है। लोगों में दहशत का माहौल बना हुआ है।हरिद्वार से राहत बचाव कार्य के लिए आ रही एसडीआरएफ की दो टीमों में से एक टीम में राजपाल सिंह, लखपति प्रसाद, महावीर नेगी, मनेंद्र्र सिंह, विनोद नेगी, कमल रावत, संदीप गोस्वामी, शैलेंद्र चमोली व अजय सिंह है। दूसरे टीम में रविंद्र सिंह, नरेंद्र सिंह, दलजीत सिंह, चंद्रमोहन, वेद किशोर, अनिल नेगी, हरीश प्रसाद, संदीप कुमार व विपिन राणा शामिल हैं।

Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *