यहां पत्रकारों को भाजपा विधायक के खिलाफ खबर लिखना पड़ा भारी, थाना ले जाकर पुलिस द्वारा इस तरह करवाया गया बेइज्जत

ख़बर शेयर करें

सीधी में भाजपा विधायक के खिलाफ खबरें लिखने पर पत्रकार को थाने में बंद करने और कपड़े उतरवाने का मामला सामने आया है। इसको लेकर सीधी पुलिस सवालों के घेरे में है। पुलिसकर्मियों ने अर्धनग्न कर फोटो खीचें और उन्हें वायरल कर दिया। फोटो में पत्रकार कनिष्क तिवारी सहित नौ युवक अंडरवियर में नजर आ रहे हैं। सीधी एसपी मुकेश श्रीवास्तव ने बताया कि मामला सामने आने के बाद थाना प्रभारी मनोज सोनी और एक सब इंस्पेक्टर को लाइन अटैच किया गया है। मामले की जांच के लिए एएसपी को जिम्मेदारी दी गई है।

पीड़ित पत्रकार ​​​​कनिष्क तिवारी ने बताया है कि वे शनिवार शाम को कोतवाली के बाहर रंगकर्मी नीरज कंदेर की रिहाई और सरकार के खिलाफ हो रहे प्रदर्शन की खबर कवर करने गए थे। तभी पुलिसकर्मी प्रदर्शन कर रहे लोगों के साथ उन्हें भी थाने ले गए। आरोप है कि सामाजिक मुद्दों को लेकर कई बार खबरों के माध्यम से उन्होंने विधायक को घेरा था। इसलिए पुलिस उन्हें पकड़कर थाने ले गई। वहां लेकर पुलिसकर्मियों ने मेरे और प्रदर्शन करने वाले आठ लोगों के कपड़े उतरवाकर फोटो खींचे और उन्हें वायरल कर दिया।

कनिष्क ने आरोप लगाया कि कोतवाली में थाना प्रभारी मनोज सोनी ने कहा कि तू और खबर चलाएगा विधायक की, अगर फिर दोबारा तूने ऐसा किया तो तेरे साथ ऐसा ही सलूक किया जाएगा। फोटो में दिख रहे एक युवक का आरोप है कि अमिलिया के थाना प्रभारी ने अपने मोबाइल से फोटो खींचे थे। पुलिस ने इन सभी के खिलाफ केस दर्ज किया है।

विधायक पुत्र के खिलाफ पोस्ट करने पर नीरज की गिरफ्तारी

सीधी विधायक पं.केदारनाथ शुक्ला के विधायक पुत्र गुरुदत्त शरण पर अभद्र टिप्पणी करने के बाद यह पूरा मामला शुरू हुआ। गुरुदत्त शरण के खिलाफ अनुराग मिश्रा नाम की आईडी से पोस्ट किया गया था। इस आईडी से करीब एक महीने से पोस्ट और कमेंट किए जा रह थे। थाने में शिकायत के बाद पुलिस ने शुक्रवार को रंगकर्मी व इंद्रवती नाट्य समिति संचालक नीरज कुंदेर को गिरफ्तार किया था। आरोप है कि नीरज ही अनुराग मिश्रा नाम की आईडी से पोस्ट व कमेंट कर रहा था। यह सभी लोग इसी मामले में नीरज की रिहाई की मांग को लेकर प्रदर्शन कर रहे थे। नीरज इस मामले में जेल में है। गुरुवार को भी अनुराग मिश्रा की आईडी पोस्ट किए गए।

दूसरे थाने के प्रभारी ने फोटो खींचकर की वायरल

वायरल फोटो में रंगकर्मी व इंद्रवती नाट्य समिति का सह संचालक रोशनी प्रसाद मिश्रा भी है। उनका कहना है कि हमारी फोटो सीधी से 45 किलोमीटर दूर अमिलिया के थाना प्रभारी अभिषेक सिंह परिहार ने खींची थी। इसके बाद उन्होंने फोटो वायरल कर दी। रोशनी ने फोटो को लेकर मानवाधिकार आयोग में आवेदन दिया है। मामले को लेकर कांग्रेस व वरिष्ठ समाजसेवियों ने नाराजगी जताई है। इस मामले में सीधी जिले की उपपुलिस अधीक्षक अंजुलता पटेल,एसपी मुकेश श्रीवास्तव व थाना प्रभारी मनोज सोनी कोई भी कुछ बोलने को तैयार नहीं हैं। सीधी विधायक पंडित केदारनाथ शुक्ला से बात करनी चाही तो उनका फोन बंद आया।

सीधी विधायक ने कहा- कड़ी कार्रवाई की जाएगी

सीधी विधायक पं.केदारनाथ शुक्ला कलेक्ट्रेट कार्यालय में कलेक्टर से मिलने पहुंचे। वहां उन्होंने मीडिया को बाइट देने से मना कर दिया,लेकिन मौखिक रूप से उन्होंने कहा कि मैं कनिष्क तिवारी को पत्रकार नहीं मानता। जो फोटो वायरल हुई है उस पर मैं खुद संज्ञान ले रहा हूं और इस पर कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

इनके फोटो हुए वायरल

कनिष्क तिवारी (न्यूज नेशन, यूट्यूब चैनल एमपी संदेश बघेली) शिवा कुंदेर रोशनी प्रसाद मिश्रा रजनीश जायसवाल सुनील चौधरी नरेन्द्र सिंह उज्जवल कुंदेर बेमिसाल खान आदित्य भदौरिया (उज्जवल कुंदेर के पीछे)

Ad
Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.