एसटीएच मे शराब के नशे में धुत थे डॉक्टर, मरीज का उपचार के बजाय कर रहे थे बदतमीजी परिजनों ने की ठुकाई , वीडियो वायरल

ख़बर शेयर करें

हल्द्वानी-कुमाऊ के सबसे बड़े हॉस्पिटल सुशीला तिवारी में अक्सर कई बार परिजनों और डॉक्टरों के बीच का कहासुनी तक हो जाती है और एक बार फिर यहां पर चिकित्सक व तीमारदार आपस में भिड़ गए । जिससे दोनों पक्षों के कई लोग घायल हुए हैं। मौके पर पहुंची पुलिस ने बमुश्किल मामला शांत करा कर जांच शुरू कर दी है। इधर दोनों पक्ष के लोगों ने एक दूसरे के खिलाफ तहरीर दी है। मामला देर रात साढ़े 10 बजे को डहरिया निवासी योगेश सक्सेना के पिता प्रेम शंकर का बीपी लो हो गया था। जिसके बाद परिजन उन्हें सुशीला तिवारी हॉस्पिटल ले आए।

ताजा खबरों के लिए हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़े

परिजनों का आरोप है कि चिकित्सकों ने देखने के बजाय बदतमीजी करना शुरू कर दिया। कहासुनी के बाद हंगामा खड़ा हो गया। और एक दूसरे पर हमला बोल दिया। आरोप है कि चिकित्सकों में वार्ड को बंद कर तिमारदारों की जमकर पिटाई लगाई। लाठी-डंडों से लैस शराब के नशे में धुत जूनियर डॉक्टरों ने आरटीओ रोड निवासी उमेश बुधानी व डहरिया निवासी मनोज बिष्ट को गंभीर रूप से घायल घायल कर दिया है। जिन्हें इलाज के लिए बेस अस्पताल भेजा गया।इधर जूनियर डॉक्टरों का कहना है कि उनके साथ भी मारपीट की गई है। जबकि छात्राओं ने तीमारदारों पर अभद्रता करने का भी आरोप लगाया है। हंगामे की सूचना पर एसपी सिटी डा. जगदीश चंद्र, सीओ सिटी शांतनु पाराशर, सिटी मजिस्ट्रेट रिचा सिंह, मेडिकल कॉलेज चौकी प्रभारी मनवर सिंह आदि पहुंचे। हंगामा बढ़ता देख मौके पर पुलिस फोर्स भी बुला ली गई। हालांकि बाद में मामला शांत हो गया था। पुलिस ने मामले की जांच शुरू कर दी है।

Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *