दुल्हन को ले उड़ा आशिक माँ बाप ने लोकलाज के भय से छोटी बहन से करानी चाही तो फस गया पेच

ख़बर शेयर करें

बागेश्वर एसकेटी डॉट कॉम

शादी से पूर्व प्रेमी से संबंध रखना लड़की के पिता व मां को उस समय भारी पड़ गया जब दुल्हन अपने आशिक के साथ फरार हो गई और इज्जत बचाने के खातिर जब छोटी बहन से दूल्हे की शादी के लिए मां-बाप को तैयार होना पड़ा लेकिन इस बीच एक बहुत बड़ा पेच फस गया। दुल्हन की छोटी बहन बालिक नहीं होने के कारण यह शादी रुक गई किसी मुखबिर ने पुलिस को यह बात लीक करा दी। दल बल के साथ पहुंच गई और उसने गैरकानूनी काम करने पर अंजाम भुगतने की चेतावनी भी दी।

 से पहले दुल्हन के फरार होने की खबरें आपने बहुत पढ़ी होगी। लेकिन लोकलाज के भय से बचने के लिए दुल्हन पक्ष में छोटी बहन से दूल्हे की शादी तय कर दी। पर मामला कम उम्र को लेकर लटक गया। इसकी खबर पुलिस को मिली तो शादी में पुलिस दलबल के साथ पहुंच गई। जांच में छोटी बेटी नाबालिग निकली जिसके बाद पुलिस ने शादी रोक दी गई। खबर उत्तराखंड के बागेश्वर जिले से है, जहां शुक्रवार को राजस्व पुलिस क्षेत्र अमसरकोट के सात रतबे गांव में पुलिस व वन स्टॉप सेंटर के कर्मचारियों ने एक नाबालिग की शादी रोक दी है। पुलिस के अनुसार शुक्रवार को बागेश्वर जिले के दफौट क्षेत्र से एक बारात सात रतबे गांव में गई थी।

बारात की रस्म पूरी होने की तैयारी चल रही थी। तभी पुलिस और वन स्टॉप सेंटर को सूचना मिली की यहां नाबालिग की शादी हो रही है। मौके पर पहुंची पुलिस व वन स्टॉप सेंटर की टीम ने दुल्हन के स्कूल के कागजातों की जांच की तो लडक़ी नाबालिग निकली। इसके बाद दुल्हन के परिजनों से शादी रोकने को कहा। परिजनों से लिखाया गया कि बेटी के बालिग होने पर ही बेटी की शादी करेंगे। नाबालिग दुल्हन के शादी का राज खुला तो पता चला कि शादी उसकी बड़ी बहन की थी, लेकिन शादी के कुछ घंटे पहले ही वह प्रेमी संग फरार हो गई। जिसके बाद पूरे गांव में लोकलाज बचाने की नौबत आ गई। ऐसे में परिजनों ने छोटी बेटी की शादी

  शादी से पहले दुल्हन के फरार होने की खबरें आपने बहुत पढ़ी होगी। लेकिन लोकलाज के भय से बचने के लिए दुल्हन पक्ष में छोटी बहन से दूल्हे की शादी तय कर दी। पर मामला कम उम्र को लेकर लटक गया। इसकी खबर पुलिस को मिली तो शादी में पुलिस दलबल के साथ पहुंच गई। जांच में छोटी बेटी नाबालिग निकली जिसके बाद पुलिस ने शादी रोक दी गई। खबर उत्तराखंड के बागेश्वर जिले से है, जहां शुक्रवार को राजस्व पुलिस क्षेत्र अमसरकोट के सात रतबे गांव में पुलिस व वन स्टॉप सेंटर के कर्मचारियों ने एक नाबालिग की शादी रोक दी है। पुलिस के अनुसार शुक्रवार को बागेश्वर जिले के दफौट क्षेत्र से एक बारात सात रतबे गांव में गई थी।

सारा मामला धरा का धरा रह गया।

Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad
Ad Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.