मैं और मेरे नेता नालायक:हरक,देखे वीडियो

ख़बर शेयर करें

उत्तराखंड में आगामी विधानसभा चुनाव को देखते हुए माहौल गर्म हो चुका है जिसकी वजह से आज के समय में हर एक राजनीतिक दल एक दूसरे के ऊपर आरोप-प्रत्यारोप लगाने से पीछे नहीं हटता है और इसी बीच अपने बयानों की चलते सुर्खियों में रहने वाले हरक सिंह रावत कैसे पीछे रह जाते हैं इस बार उन्होंने अपने बयानों में कुछ ऐसा कह दिया जिसकी वजह से वह एक बार फिर सुर्खियों में छा चुके हैं जानकारी के अनुसार बता दे कि मसूरी नगर पालिका परिषद में उत्तराखंड पर्यटन और तीर्थाटन संरक्षण समिति की ओर से आयोजित कार्यक्रम में कैबिनेट मंत्री हरक सिंह रावत शामिल हुए। इस दौरान कॉमरेड शिव प्रसाद देवली ने उनके सामने ही बीजेपी सरकार पर निशाना साधा और बदले गए सीएम को नालायक बता दिया, लेकिन वो चुपचाप मुस्कुराते रहे।

वीडियो

वहीं हरक सिंह रावत ने खुद अपने संबोधन में भी कह दिया कि उत्तराखंड के शहीदों की आत्मा आज रोती होगी, क्योकि उत्तराखंड को नालायकों के हाथों में दे दिया गया है। अब इस तरह अपनी ही सरकार के लोगों को नालायक कहा जाना किस तरफ इशारा कर रहा है यह तो हरक सिंह रावत की बातों से साफ समझ आ रहा है।लेकिन इस बीच एक और बड़ी बात है जो कि हरक सिंह रावत के इस रवैया से सामने आ रही है क्योंकि उनके इस बयान से यह बात साफ समझ में आ रही है कि कभी बीजेपी कभी कांग्रेस करने वाले हरक सिंह रावत अब बीजेपी में भी अगले चुनाव को लेकर खुद को असहज महसूस कर रहे हैं और उनके नालायक और बेवकूफों के हाथों में राज्य सौंपने के बयान से यह बात और भी साफ होती दिखाई पड़ रही है। जिसके बाद पत्रकारों के द्वारा उनके बयान को लेकर उनसे जब इस मामले में आगे पूछा गया कि आप किसके ऊपर निशाना साध रहे हैं तो उन्होंने कहा कि मैं अपने साथ सभी को लेकर कह रहा हूं क्योंकि जिस प्रकार से हमारे राज्य बनाने के लिए जिस प्रकार से उत्तराखंड के शहीदों ने अपनी शहादत दी लेकिन आज राज्य की दुर्गति देखते हैं वह उनकी आत्मा सच में रो रही होगी कि हमने किन लोगों के हाथ में राज्य की कमान सौप दी क्योंकि राज्य की दुर्गति हो चुकी है। अब ऐसे में कई सवालिया निशान खड़े होते हैं क्या हरक सिंह रावत अपनी भाजपा सरकार से खुश नहीं है? भाजपा में हरक सिंह रावत की कोई अहमियत नहीं है ? हरक सिंह रावत अपने दिल की अंदर की बातें अपने शब्दों पर बयान करना चाहते हैं लेकिन वह साफ तौर पर अपने शब्दों पर अपने दिल की बातें बयां भी नहीं कर सकते।

Report by-ankur saxena

Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.