ऑनलाइन ठगी से कैसे बचें और अपने फोन से कैसे करे बचाव

ख़बर शेयर करें

आज के समय में साइबर ठगी को लेकर कई मामले सामने आते जा रहे हैं जिसको लेकर पुलिस के द्वारा आम जनता को समय-समय पर ठगी को लेकर लोगों को जानकारी दी जाती है लेकिन इसके बावजूद भी लोग इस प्रकार की ठगी में फंस जाते हैं और अपना काफी नुकसान कर जाते हैं तो चलिए आज हम आपको साइबर ठगी से बचाव के लिए नैनीताल पुलिस के द्वारा जो भी उपाय हैं उनके बारे में बताएंगे।

साइबर ठगों से बचाव के उपाय

पैसों के लेनदेन में किसी भी प्रकार की असुविधा होने पर कस्टमर केयर का नंबर गूगल पर सर्च ना करें पेमेंट असफल होने या धनराशि के खाते से निकलने पर जिस पेमेंट एप का आपके द्वारा उपयोग किया जा रहा है उसके पेमेंट में raise dispute ऑप्शन के माध्यम से अपने पेमेंट एप पर ही अपनी शिकायत दर्ज करें।

किसी व्यक्ति या कस्टमर केयर के द्वारा कोई भी ऐप इंस्टॉल करने के निर्देश देने पर इंस्टॉल ना करें एवं अपने मोबाइल में चल रहे इंटरनेट को बंद कर दें ताकि फ्रॉड करने का प्रयास करने वाला व्यक्ति आपके फोन का उपयोग ना कर सके।

तेरी आंखें किसी दोस्त स्टार या अन्य का किसी सोशल मीडिया के माध्यम से मदद के नाम पर मैसेज या फोन आता है तो अपने उस दोस्त रिश्तेदार या किसी अन्य को आपके पास पूर्व में उपलब्ध संपर्क माध्यम से संपर्क कर वस्तुस्थिति की जानकारी कर लें और उसकी मदद करनी हो तो उसके बैंक खाते में ही धनराशि दे वह धनराशि जमा करते समय बैंक से उस बैंक खाते के बारे में उसके लेनदेन के प्रकार की स्थिति का आकलन कर ही धनराशि जमा करें

आपका एटीएम सीवीवी पिन किसी के साथ भी शेयर ना करें एवं एटीएम का प्रयोग खाताधारक स्वयं करें यदि आपके एटीएम कार्ड का उपयोग किसी अन्य द्वारा किया जाता है तो आप की ठगी निकासी की गई धनराशि बैंक द्वारा वापस नहीं की जाएगी आरबीआई के नियम अनुसार

अपने एटीएम कार्ड का पिन 30 दिन में बदलते रहें अपना एटीएम कार्ड की फोटो किसी को भी सेंड ना करें

किसी भी प्रकार से पेमेंट एप का प्रयोग करने पर अन्य के द्वारा पेमेंट करने हेतु भेजे गए लिंक पर क्लिक न करें

किसी भी प्रकार से क्यूआर कोड को धनराशि प्राप्त करने हेतु स्कैन ना करें क्यूआर कोड स्कैन कर धनराशि प्राप्त नहीं होती है परंतु क्यूआर कोड स्कैन करने वाले खाते से धनराशि आहरित हो जाती है

मैसेज फॉरवर्ड करने से आपकी सिम मोबाइल नंबर आपके बैंक की सेवाओं को अन्यत्र प्रयोग में लाया जा सकता है इससे आपके खाते से संपूर्ण धनराशि निकाली जा सकती है एवं अन्य व्यक्ति के खाते से धोखाधड़ी करने के लिए आप के खाते का इस्तेमाल भी किया जा सकता है जिससे भविष्य में होने वाली पुलिस एवं बैंक जांच में आपके खाते एवं आपको सम्मिलित किया जा सकता है अच्छा अज्ञात नंबर माध्यम से प्राप्त किसी भी मैसेज लिंक ओटीपी को किसी अन्य नंबर पर फॉरवर्ड ना करें।

किसी भी बैंक बीमा कंपनी की केवाईसी कभी भी फोन कॉल द्वारा नहीं की जाती है केवाईसी के लिए आने वाली कॉल एसएमएस कोई भी जवाब ना दे केवाईसी के लिए अपने बैंक बीमा कंपनी के ऑफिस में जाकर केवाईसी करवाएं

सोशल मीडिया अकाउंट को किस तरह से रख सकते हैं सुरक्षित ।

सोशल मीडिया का उपयोग करने हेतु अपने सोशल मीडिया खाते का पासवर्ड हमेशा सुरक्षित रखें जिससे इससे अल्फान्यूमैरिक वर्ड एवं स्पेशल कैरेक्टर का कॉन्बिनेशन हो जिसे समय-समय पर बदलते रहे पर पासवर्ड कभी भी अपना मोबाइल नंबर नाम जन्म तिथिआदि का कोई भी शब्द नहीं बनाना चाहिए।

सोशल मीडिया खाते को सुरक्षित करने के लिए दो स्तरीय सुरक्षा का उपयोग करना चाहिए

सोशल मीडिया खाते हैं मैं प्राइवेसी पॉलिसी का उपयोग करना चाहिए (जैसे आपकी फोटो फ्रेंड लिस्ट पोस्ट कमेंट लाइक आदि को कौन-कौन देख सकता है)।फेसबुक के प्रोफाइल लॉग एवं प्रोफाइल पिक्चर गार्ड अवश्य प्रयोग करें।

अनजान व्यक्ति को अपनी फ्रेंड लिस्ट में नहीं जोड़ना चाहिए अनजान व्यक्ति से वीडियो कॉल करने से बचें हो सकता है कि उसके द्वारा आपके साथ की जा रही वीडियो कॉल की रिकॉर्डिंग की जा रही हो जिसकी वजह से कई प्रकार के दूर दुरुपयोग किया जा सकता है

आपके द्वारा जितने सोशल मीडिया खाते बनाए गए हैं उनके रिकवरी हेतु दिए जाने वाली जानकारी अपडेट हो जिससे आपके द्वारा पूर्व में उपयोग किए गए न मोबाइल नंबर आदि का आपके द्वारा उपयोग नहीं करने पर कुछ समय बाद उसे कंपनी द्वारा नए ग्राहक को विक्रय कर दिया जाता है जिसके द्वारा आप के सोशल मीडिया खाते का दुरुपयोग किया जा सकता है ।

विदेश में रहने वाले आपकी किसी भी सोशल मीडिया मित्र द्वारा संभव था आपको कोई भी उपहार भेजने के नाम पर ठगी करने का प्रयास किया जाए ऐसे किसी भी प्रकार के फ्रॉड के झांसे में ना आए

सोशल मीडिया व्हाट्सएप में यदि कोई लिंक अनजान नंबर से आए जिससे मैं लॉटरी कौन बनेगा करोड़पति आदि से इनाम लगने का झांसा दिया जाता है उन लिंक पर क्लिक ना करे लिंक क्लिक करने पर आपका सोशल मीडिया खाता बंद हो सकता है या आपको अन्य तरह से सामाजिक हानि पहुंचा सकता है।

युवक/ युवतियों को सोशल मीडिया में अनजान व्यक्तियों को अपनी फ्रेंड लिस्ट में शामिल नहीं करना चाहिए वह अपने आपत्तिजनक फोटो या वीडियो को सोशल मीडिया या अन्य किसी भी माध्यम से शेयर नहीं करना चाहिए हो सकता है कि आज के आपके मधुर संबंध में दिए जाने वाले फोटो एवं वीडियो को एडिट कर गलत तरीके से बना कर भविष्य में आप की छवि खराब या फिर धूमिल करने का प्रयोग किया जा सकता है ।

ऑनलाइन लोन प्रदान करने वाले ऐप फेक कॉल एस एम एस लिंक से सावधान रहें इनके द्वारा आपके फोन में इंस्टॉल कराए जाने वाली लोन की ऐप आपकी निजी डेटा को एक्सेप्ट करते हैं और यह आपके द्वारा लिए गए छोटी छोटी मात्रा के लोन को चुकाने के एवज में कई गुना धनराशि वसूलते हैं एवं आपके डाटा( कॉन्टेक्ट्स निजी फोटोस वीडियो )को मानसिक प्रताड़ना हेतु प्रयोग करते हैं

फोन पर गेम्स खेलने वाले व्यक्ति युवा पीढ़ी अपने गेम्स की आईडी को धनराशि प्राप्त करने हेतु विक्रय करते हैं जिससे युवा पीढ़ी का काफी निजी डेटा उस गेम आईडी को प्राप्त करने वाला व्यक्ति प्राप्त कर लेता है जिसका वह दुरुपयोग कर सकता है

फोन पर ऑनलाइन क्लास गेम खेलने वाले बच्चे अपने माता-पिता के खाते से गेम खेलने में धनराशि खर्च कर देते हैं जिसका माता-पिता को पता तब लगता है जब खर्च भी धनराशि की मात्रा काफी ज्यादा हो जाती है इसलिए माता-पिता अपने बच्चों को फोन पर ऑनलाइन की लाज गेम खेलने के लिए ऐसा मोबाइल फोन ना दें जिसमें उनका बैंक में रजिस्टर्ड मोबाइल नंबर प्रयोग किया जाता है एवं अपने डेबिट कार्ड क्रेडिट कार्ड को बच्चों की पहुंच से दूर रखें।

वर्तमान में कोविड-19 के कारण लोगों में भय व्याप्त है जिसका फायदा फ्रॉड कॉल करने वाले लोग स्वयं को कोविड-19 के टीकाकरण अभियान का हिस्सा बताकर सम्मानित जनता को सोशल मीडिया कॉल s.m.s. ईमेल android.app आदि के माध्यम से संपर्क कर उनकी जुड़ी जानकारी प्राप्त करने का प्रयास करते हैं इस प्रकार की ब्रह्मा की सूचना जानकारी पर कोई प्रतिक्रिया देने से बचें इस सरकार के अभियान का आयोजन सरकार द्वारा किए जाने पर उसका प्रचार प्रसार राष्ट्रीय समाचार पत्रों और टीवी चैनलों पर आएगा।

Ad
Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.