यहां नाबालिग से हुई हैवानियत, थानेदार ने पीड़ित परिवार पर गंभीर आरोप लगा घंटो बैठाया

ख़बर शेयर करें

उत्तर प्रदेश के कानपुर जिले से एक सनसनीखेज मामला सामने आया है। कानपुर आउटर के शिवराजपुर में एक दलित नाबालिग के साथ गांव के युवक ने खेत में दबोचकर उसके साथ दुष्कर्म किया है। घटना को अंजाम देने के बाद आरोपी मौके से फरार हो गए। इसके बाद पीड़िता ने मामले की जानकारी अपने परिजनों को दी तो उन्होने शिवराजपुरि थाने में जाकर आरोपी के खिलाफ तहरीर दी। आरोप है कि थानेदार ने रिपोर्ट दर्ज कराने के बजाय पीड़िता को थाने में बैठाकर पूछताछ शुरूकर दी। बताया जा रहा है कि थानेदार पीड़िता के परिवार पर समझौते का दबाव बनाने लगे।

Ad
Ad

अफसरों के दबाव पर दर्ज की गई FIR
इसके बाद देर रात मामला अफसरों तक पहुंचा तो उनके दबाव पर पीड़िता की एफआईआर दर्ज की गई। पीड़िता ने मामले की जानकारी देते हुए बताया कि वह मंगलवार की सुबह खेतों की ओर गई थी। इसी दौरान वहां पर पहले से ही गांव का अवनीश घात लगाए बैठा था। सन्नाटे का फाय़दा उठाते उसने नाबालिग को दबोच लिया और उसके साथ दुष्कर्म किया। आरोपी पीड़िता को जान से मारने की धमकी देते हुए मौके से भाग निकला। पीड़िता के परिवार ने आरोप लगाते हुए कहा कि थाना प्रभारी ने केस दर्ज करने के बजाय पीड़िता के परिवार पर ही लांछन लगाते हुए मामले की पूछताछ करने लगे और पीड़िता को घंटों थाने में बैठाए रखा।

आरोपी को गिरफ्तार करने के लिए पुलिस दे रही दबिश
वहीं सोशल मीडिया के जरिए मंगलवार देर शाम मामले की जानकारी एसपी आउटर तेज स्वरूप सिंह, एडीजी भानु भास्कर समेत अन्य अफसरों को हुई तो उन्होंने मामले पर संज्ञान लेते हुए थाना प्रभारी के फटकार लगाई। तब जाकर रिपोर्ट दर्ज की गई। एसपी आउटर तेज स्वरूप सिंह ने बताया कि तहरीर के आधार पर आरोपी अवनीश के खिलाफ दुष्कर्म, पॉक्सो एक्ट, एससी-एसटी एक्ट और मारपीट समेत अन्य धाराओं में केस दर्ज किया गया है। उन्होंने बताया कि आरोपी को गिरफ्तार करने के लिए टीमें लगातार दबिश दे रही हैं। वबीं नाबालिक का बुधवार को मेडिकल करवाया जाएगा। जांच रिपोर्ट और मजिस्ट्रेटी बयान के आधार पर आगे की कार्रवाई की जाएगी।