यहां गोवंश संरक्षण स्क्वायड ने भारी मात्रा में गोमांस किया बरामद, गिरफ्तार

ख़बर शेयर करें

उत्तराखंड में गोकशी को लेकर कई मामले सामने आते रहते हैं कि ऐसा ही मामला धर्म नगरी से सामने आ रहा है यहां पर गोवंश संरक्षण स्क्वाड गढ़वाल परिक्षेत्र हरिद्वार के द्वारा की गई गोकशी की रोकथाम हेतु कार्यवाही में 80 किलोग्राम गौमांस, एक जीवित गौवंश, गोकशी उपकरण, दो दोपहिया वाहन बरामद करने के साथ एक अभियुक्त को गिरफ्तार किया है।


पुलिस उपमहानिरीक्षक गढ़वाल परिक्षेत्र द्वारा गठित टीम उत्तराखंड गौवंश संरक्षण स्क्वायड गढ़वाल परिक्षेत्र हरिद्वार को ग्राम बिझोली के पास मुखबिर खास द्वारा सूचना प्राप्त हुई थी कि बिझोली के रहने वाले इरफान पुत्र गुफरान द्वारा बिझोली स्थित अपने घेर में अपने साथियों के साथ मिलकर गोकशी की गई हैं।

इस सूचना पर उप निरीक्षक आशीष कुमार द्वारा मय टीम के उक्त पते बिझोली स्थित घेर पर दबिश दी गई तो उक्त घेर से दानिश पुत्र शाहिद निवासी ग्राम जोरासी थाना कोतवाली मंगलोर , जनपद हरिद्वार को गिरफ्तार किया गया। जिसके कब्जे से लगभग 80 कि0ग्राम गोमाश, चार गोवंश खुर, एक जीवित गौवंश, दो दोपहिया वाहन एक काले रंग की बिना नम्बर की मोटर साइकिल व एक सफेद रंग की UK17G7542 नम्बर की स्कूटी व गोकशी उपकरण

दो लोहे की छुरियां एक कुल्हाड़ी एक इलेक्ट्रॉनिक तराजू एक लकड़ी का गुटका लगभग 1.500 कि ग्रां हल्के नीले रंग की पारदर्शी पैकिंग पालीथीन व मौके से फरार अभियुक्त दिलशाद का एक फिरोजी रंग का विवो कंपनी का टच मोबाइल फोन बरामद हुआ।
जबकि उक्त अभियुक्त के दो अन्य साथी दिलशाद पुत्र युनूस निवासी ग्राम जोरासी, थाना कोतवाली रुड़की जनपद हरिद्वार व इरफान पुत्र गुफरान निवासी ग्राम बिझोली थाना कोतवाली मंगलौर जनपद हरिद्वार घेर के पीछे बनी एक छोटी खिड़की से गन्ने के खेत में कूद कर फरार हो गए। जिनको काफी देर तक तलाश किया गया परंतु उनका कुछ पता नहीं चला। मौके से पकड़े गए


अभियुक्त से पूछताछ की गई तो उसके द्वारा बताया गया की उसके एवं उसके फरार अभियुक्त साथी उपरोक्त द्वारा मिलकर एक काले रंग के गोवंश को काटा था उसके बाद जीवित गोवंश को काटने का नंबर था। तत्पश्चात पशु चिकित्सक डॉक्टर सुरक्षा गोला मौके को बुलाकर बरामद मांस व खाल का सैंपल लिया गया शेष गौ मांस को मौके से थोड़ी ही दूर एक गहरा गड्ढा खोदकर अम्लीय छिड़काव कर नष्ट किया गया।

उपरोक्तअभियुक्त दानिश एवं अन्य फरार अभियुक्तगण फुरकान व दिलशाद के विरुद्ध कोतवाली मंगलोर पर धारा 3/5/11 उत्तराखंड गोवंश संरक्षण अधिनियम व 3/11 पशु क्रूरता निवारण अधिनियम के अंतर्गत अभियोग पंजीकृत कराया गया। फरार अभियुक्त गण की तलाश जारी है, पकड़े जाने पर वैधानिक/कानूनी कार्यवाही अमल में लाई जाएगी। टीम में उप निरीक्षक आशीष कुमार,शरद सिंह,कांस्टेबल प्रवीण कुमार, राजेंद्र कुमार, विकास, अजयवीर,राजेंद्र आदि शामिल रहे।

Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.