ख़बर शेयर करें



महाराष्ट्र के रायगढ़ जिले में संदिग्ध नाव मिलने से सनसनी फैल गई है। नाव में एके-47 राइफल, कुछ राइफलें व भारी संख्या में कारतूस मिलने की खबर सामने आई है।
बता दें कि महाराष्ट्र के रायगढ़ जिले में संदिग्ध नाव मिली हैं। जानकारी के अनुसार, दो संदिग्ध नाव लावारिस मिली हैं।

ये नाव रायगढ़ जिले में स्थित हरिहरेश्वर समुद्र तट पर मिली है। हरिहरेश्वर तट मुंबई से 200 और पुणे से 170 किलोमीटर दूर बताया गया है।


इनमें से एक नाव में एके-47 राइफल, कुछ राइफलें व भारी संख्या में कारतूस मिलने की खबर सामने आई है इन नावों में कौन सवार होकर आया और ये कहां से आई, इन बातों की पड़ताल में सुरक्षा एजेंसियां जुटी हैं। पुलिस ने नाव को अपने कब्जे में ले लिया है। यह नाव समुद्र के किनारे मिली है।

पुलिस स्थानीय लोगों से भी पूछताछ कर रही है, ताकि नाव के बारे में जानकारी प्राप्त की जा सके।महाराष्ट्र एटीएस की टीम रायगढ़ के लिए रवाना हो गई है। यह टीम इस पूरे मामले की जांच करेगी।


महाराष्ट्र में मिली इस संदिग्ध नाव से गुजरात के पोरबंदर तट पर पूर्व में मिली संदिग्ध नाव और उसके बाद मुंबई में हुए 26/11 जैसी आतंकी साजिश की आशंका पैदा हो गई है। यह पता लगाया जा रहा है कि आखिर ये नाव कहां से आई और इसमें मिले हथियार किसने भेजे? क्या नाव में कोई सवार होकर आया था और यदि आया था तो वह कहां है?


श्रीवर्धन (रायगढ़) विधायक, अदिति तटकरे ने कहा कि प्राथमिक जानकारी के अनुसार, रायगढ़ के श्रीवर्धन के हरिहरेश्वर और भारदखोल में हथियार-दस्तावेज वाली कुछ नावें मिली है। जांच चल रही है, मैंने मुख्यमंत्री से मांग की है कि ATS या स्टेट एजेंसी की स्पेशल टीम तत्काल नियुक्त करें।

मामले में उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने बयान जारी किया है। उनका कहना है कि मामले पर सरकार गंभीरता से नजर बनाए हुए है। गंभीरता के साथ जांच की जा रही है।


एक अधिकारी ने कहा, यह ब्रिटेन में पंजीकृत नौका है जो ओमान से यूरोप जा रही थी। नौका से एक आपातकालीन कॉल प्राप्त हुआ था और 26 जून को मस्कट के आसपास इसमें सवार लोगों को बचा लिया गया था।

अधिकारी के मुताबिक, हथियार विक्रेता से संपर्क किया गया है और नौका पर मिले हथियारों के क्रमांक विक्रेता की सूची से गायब हथियारों से मेल खाते हैं अधिकारी ने कहा, चूंकि, नौका की गति धीमी होती है, इसलिए उसे छोटे हथियार ले जाने की अनुमति दी जाती है। इस पर सवार लोगों ने नौका को जब छोड़ा था तब वे अपने साथ हथियार नहीं ले गए थे।

Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.