गोदियाल ने सजाई फील्डिंग भाजपा के संगठन का मुकाबला करने के लिए अपने एक्टिंग कप्तानों को ऐसे लगाया काम पर

ख़बर शेयर करें

देहरादून एसकेटी डॉटकॉम।

कांग्रेस की कमान मिलने के बाद पार्टी को सत्ता में दोबारा स्थापित करने के लिए नवनियुक्त ऊर्जावान अध्यक्ष गणेश गोदियाल ने फील्डिंग सजाने शुरू कर दी है । उन्होंने पार्टी द्वारा उन्हें दिए गए चार कार्यकारी कप्तानों को काम पर लगा दिया है उन्होंने पार्टी की रणनीति तय करने प्रदेश प्रभारी एवं हाईकमान से वार्तालाप करने के लिए अपने को फ्री रखा है ।

जबकि चारों कार्यकारी कप्तानों को विभिन्न मंडलों एवं क्षेत्रों की जिम्मेदारी दी कर उनसे फीडबैक लेने का निर्णय लिया है । प्रोफेसर जीतराम को कुमाऊं मंडल के सभी विधानसभा क्षेत्रों का प्रभारी बनाया गया है वही तिलकराज बेहड़ को तराई मंडल के सभी विधानसभा क्षेत्रों को देखने की जिम्मेदारी दी है । इसके साथ ही रणजीत सिंह रावत को गढ़वाल मंडल के सभी विधानसभाओं में पार्टी संगठन को मजबूत करने की जिम्मेदारी दी है। । युवा भुवन कापड़ी को प्रदेश मुख्यालय में पार्टी कार्यालय को चुस्त दुरुस्त रखने एवं विभिन्न मंडलों से आने वाली फीडबैक को सवारने तथा इसकी रिपोर्ट अध्यक्ष को देने की जिम्मेदारी दी है ।

युवा भुवन कापड़ी को मुख्यालय की जिम्मेदारी मिलने से मुख्यालय हाईटेक तरीके से काम करेगा और प्रदेश अध्यक्ष समेत प्रभारी एवं हाईकमान के साथ समन्वय स्थापित करने के लिए अलग से व्यवस्था नहीं करनी पड़ेगी अन्य कार्यकारी अध्यक्षों से आई फीडबैक को अध्यक्ष एवं आलाकमान के सामने रखने की जिम्मेदारी भुवन कापड़ी की होगी।

युवा गोदियाल ने जिस तरह से पार्टी की रणनीति को लागू करने का प्रयास शुरू कर दिया है उससे भाजपा को चुनावी रणनीति में टक्कर देने में मदद मिलेगी। नए एवं युवा अध्यक्ष बनने के बाद कांग्रेस भी हाईटेक तरीके से पार्टी को संचालित करेगी और कार्यकर्ताओं को जमीनी स्तर पर कार्य करने का मौका देगी इसके बाद जो कार्यकर्ता पार्टी की मजबूती के लिए काम करेंगे उनका डाटा भी प्रदेश मुख्यालय में मौजूद रहेगा उसी डेट के अनुसार उन्हें भविष्य में जिम्मेदारियां भी दी जा सकेगी।

त्तराखण्ड कांग्रेस के नवनियुक्त प्रदेश अध्यक्ष गणेश गोदियाल ने सियासी फील्डिंग सजाना शुरू कर दिया। पार्टी के चारों कार्यकारी अध्यक्षों को भी जिम्मेदारियां बांट दी है। श्री गोदियाल ने बताया कि कार्यकारी अध्यक्ष रणजीत रावत गढ़वाल मंडल की विधानसभाओं के प्रभारी होंगे। जबकि प्रोफेसर जीतराम कुमायूं मंडल की  सभी विधानसभाओं के।  तिलक राज बेहड़ तराई क्षेत्र की विधानसभा क्षेत्रों का प्रभार देखेंगे। युवा कार्यकारी अध्यक्ष भुवन कापड़ी को मुख्यालय की जिम्मेदारी दी गई है। गोदियाल के फैसले को सधा हुआ सियासी फैसला माना जा रहा है। रणजीत, जीतराम और बेहङ के जरिये जहां सभी विधानसभा क्षेत्रों में सांगठनिक प्रशासन कसा हुआ रहेगा। वही कापड़ी की मौजूदगी से मुख्यालय राजीव भवन की व्यवस्थाएं पटरी पर रहेंगी। खुद अध्यक्ष गोदियाल को चुनावी रणनीति पर फोकस करने के लिये पर्याप्त समय मिल जाएगा

Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *