जयेंद्र रमोला के खिलाफ मुकदमा दायर करने के विरोध में कांग्रेस, कैबिनेट मंत्री अग्रवाल का फूंका पुतला

ख़बर शेयर करें



ऋषिकेश में कांग्रेस नेता जयेंद्र रमोला के खिलाफ मुकदमा दायर किए जाने के विरोध में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने महानगर अध्यक्ष डॉ जसविंदर सिंह गोगी के नेतृत्व में एश्ले हॉल चौक पर प्रदर्शन किया। कांग्रेस ने शहरी विकास मंत्री प्रेमचंद अग्रवाल का पुतला फूंका।

Ad
Ad


। कांग्रेस ने देहरादून में शहरी विकास मंत्री प्रेमचंद अग्रवाल का पुतला दहन किया। कांग्रेस महानगर अध्यक्ष डॉ जसविंदर सिंह गोगी ने कहा कि कांग्रेस नेता रमोला ने मंत्री प्रेमचंद अग्रवाल के विधानसभा क्षेत्र में निर्माण कार्यों की गुणवत्ता पर सबूतों के साथ सवाल उठाया।

बरसात के मौसम में जब उत्तराखंड के शहर जलमग्न हो रहे हैं। जगह जगह दुर्घटनाएं हो रही हैं। मंत्री को और प्रशासन को डिवाइडर और अन्य निर्माण कार्यों की जांच करवानी चाहिए थी लेकिन उल्टा कांग्रेस नेता पर ही ठेकेदार के माध्यम से मुकदमा दर्ज करवा दिया गया।

भाजपा सरकार और उसके मंत्री तानाशाही पर उतर आए हैं
कांग्रेस महानगर अध्यक्ष का कहना है कि विपक्ष अगर ये काम नहीं करेगा तो फिर सरकार तो पूरी तरह निरंकुश हो जाएगी। भाजपा सरकार और उसके मंत्री पूरी तरह तानाशाही पर उतर आए हैं। गोगी ने कहा कि यही हाल पिछली बरसात में देहरादून शहर का रहा था। जहां कांग्रेस स्मार्ट सिटी परियोजना के बेतरतीब और अधूरे निर्माण कार्यों को लेकर लगातार आवाज उठाती रही कि इससे डेंगू विकराल हो जाएगा पंर सरकार उस पर काम करने के बजाय डेंगू के आंकड़ों के प्रबंधन में लगी रही। नतीजन पूरे देहरादून शहर में पिछली बरसात में शायद ही कोई हो जिसने कोई न कोई रिश्तेदार डेंगू के कारण न खोया हो।

कांग्रेस पार्टी इन हथकंडों से विचलित नहीं होने वाली
कांग्रेस का कहना है कि सकारात्मक सोच रखते हुए शासन-प्रशासन जयेंद्र रमोला पर दर्ज मुकदमा वापस लें। ठेकेदार के निर्माण कार्यों की गहन जांच करें। गोगी ने कहा कि कांग्रेस पार्टी इन हथकंडों से विचलित होने वाली नहीं है। कांग्रेस द्वारा आगे भी भाजपा सरकार की कमियों को जनता के सामने उजागर किया जाता रहेगा।

कांग्रेस कार्यकर्ता राहुल गांधी के डरो मत डराओ मत के आदर्श पर चलते हैं और संघर्षों के आदी हैं। सरकार अगर जनता की आवाज उठाने के बदले इस तरह के मुक़दमे दर्ज करेगी तो डरने के बजाय आगे और भी प्रबल तरीके से जनहित के मुद्दे उठाए जाएंगे