सोए हुए प्रशासन को जगाने लिए दीपक का बड़ा कदम, दौड़ी आई सिटी मजिस्ट्रेट

ख़बर शेयर करें

हल्द्वानी एसकेटी डॉट कॉम

हल्द्वानी में जलभराव की समस्या का कोई हल होता नहीं दिख रहा है थोड़ी सी ही बारिश में सड़कें जलमग्न हो जा रही है. नैनीताल रोड के टेढ़ी पुलिया पर नाले से हो रही जलभराव से हल्की से ही बारिश में नैनीताल रोड नाले का स्वरूप ले लेता है जिसके बाद यातायात प्रभावित हो जाता है.

इस मामले को कई बार उठाने के बाद जब प्रशासन इस नाले के ऊपर से हो रहे अतिक्रमण को नहीं हटा पाया और बरसात का पानी प्राकृतिक नाले से बहता हुआ नहीं निकल पा रहा है इसकी वजह से पॉलिसीट से लेकर आवाज विकास तक जलभराव हो जाता है. कई बार इस मामले को लेकर उन्होंने पर प्रशासन को ज्ञापन भी सौंपा है इससे पूर्व है भारी बारिश में ट्रैक्टर लेकर सिटी मजिस्ट्रेट के कार्यालय में ज्ञापन देने भी पहुंचे थे लेकिन उसके बाद भी प्रशासन के कानों पर जूं नहीं रेगी. लोगों की दिक्कतों को देखते हुए दीपावली दे एक बार फिर सामने आए उन्होंने पुलिया पर हुई बारिश के बीच अर्ध समाधि ले ली. जिसकी जानकारी मिलते ही सिटी मजिस्ट्रेट दौड़े-दौड़े टेढ़ी पुलिया पहुंची उन्होंने अर्ध समाधि से उठने का आग्रह करते हुए तुरंत कार्रवाई का आश्वासन दिया.

बुध बार को एक बार फिर टेढ़ी पुलिया के पास नाला चोक होकर नैनीताल हाईवे में बहने लगा। जिस कारण लोगों की जान आफत में आ गई। इससे नाराज कांग्रेस प्रदेश प्रवक्ता दीपक बल्यूटिया ने भारी बारिश के बीच अपने समर्थकों के साथ टेढ़ी पुलिया के पास नाले से बाहर सड़क में तेज बह रहे पानी में बैठकर जल समाधि ले ली।

बाद में सिटी मजिस्ट्रेट रिचा सिंह ने मौके पर पहुंच कर उचित कार्रवाई का आश्वासन दिया। इसके बाद ही वह अर्ध जल समाधि से उठे।कांग्रेस प्रदेश प्रवक्ता दीपक बल्यूटिया ने नगर में लगातार हो रही जल भराव की समस्या पर गहरी नाराजगी जताते हुए कहा कि मामूली सी बारिश में हल्द्वानी नगरीय क्षेत्र के कई इलाकों जैसे कि नैनीताल मुख्य मार्ग, टेढ़ी पुलिया, अंबिका विहार, चौधरी भवन, शांतिनगर, पॉलीशीट, नवाबी रोड, दमुवाढूंगा, तल्ला प्लाट, शिवपुरी, चौफला क्षेत्र, जागनाथ कालोनी, बेड़ीखत्ता, देवखड़ी, चौधरी कालोनी, जोशी विहार, गौजाजाली, भवानी गंज, बद्रीपुरा, कालाढूंगी रोड आदि क्षेत्रों में जलभराव के कारण आम जनता को भारी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है।

लोगों के घरों और व्यवसायिक प्रतिष्ठानों में पानी घुस जाने के कारण सामान का भी भारी नुकसान हो रहा है। साथ ही घरों में घुसे पानी के साथ सांप कीड़े इत्यादि के आने से लोग भयभीत हैं। विद्यालय आते जाते वक्त बच्चों को सड़क पर आये उफानी नाले की वजह से जान माल का खतरा बना है।उन्होंने कहा कि एक प्राकृतिक नाला जो कि राजस्व नक्शे में दर्ज है और जो बेड़ीखत्ता दमुवाढूंगा में पहाड़ी की तलहटी से शुरू होता है और हाइडिल फायर स्टेशन के पीछे से होते हुए वाक्वे मॉल के सामने टेढ़ी पुलिया के नीचे से सुभाष नगर, आवास विकास, आर्मी गेट के सामने से राजपुरा होते हुए गौला नदी में समायोजित होता है।

विगत कई बर्षों से टेढ़ी पुलिया क्षेत्र में पुलिया के नीचे बहाव अवरूद्ध हो जाने के कारण नाले का सारा पानी नैनीताल मुख्य मार्ग में तबाही का मंजर ले कर आता है। इससे आते जाते विद्यालयी बच्चों और राहगीरों की जान का खतरा बना रहता है। जो कि दण्ड प्रक्रिया संहिता 1973 (द्र.प्र.स.) की धारा 133 (पब्लिक न्यूसेंस) की श्रेणी में आता है। इस समस्या को लंबे समय से प्रशासन के संज्ञान में लाया जा रहा है फिर भी कोई कार्यवाही नहीं हो रही है। विगत 6 अगस्त को इसी समस्या को लेकर सिटी मजिस्ट्रेट कार्यालय में प्रदर्शन करते हुए उन्हें ज्ञापन दिया था। प्रशासन ने मामले में कार्रवाई को लेकर एक समिति बनाकर इतिश्री कर ली। समस्या अब भी जस की तस बनी हुई है। भारी बारिश के बीच पानी के तेज बहाव में काफी देर तक वहां पानी में बैठे रहे। बाद में सिटी मजिस्ट्रेट वहां पहुंची उन्होंने कहा कि नाले क के पानी को इसकी नेचुरल बहाव का स्वरूप के लिए खाका तैयार कर लिया गया है

इस मौके पर सतीश बल्यूटिया, रजत भट्ट ,वसीम अली, सैयद रेहान, महेशानंद, देवेंद्र कुमार, जगदीश भारती, रानु खान, संजय बल्यूटिया, कुनाल गोस्वामी ,मुकेश कुलोरा, राहुल बल्यूटिया, मोहन सनवाल, वीरेंद्र जग्गी, मनोज बल्यूटिया, पीयूष बल्यूटिया, कुबेर बिष्ट, गोपाल बिष्ट आदि शामिल रहे। भवदीय(दीपक बल्यूटिया) प्रवक्ता उत्तराखण्ड प्रदेश कांग्रेस कमेटी

Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.