परिवर्तन यात्रा निकाल कर अपनी गुटबाजी उजागर कर गई कांग्रेस :भगत

ख़बर शेयर करें

कालाढूंगी में लगाई गई 500 कुर्सियां भी नही भर पाई कांग्रेस

देहरादून एसकेटी डॉटकॉम

प्रदेश के संसदीय ,विधायी एवं शहरी विकास मंत्री बंशीधर भगत ने कांग्रेस पर हमला बोलते हुए कहा कि परिवर्तन यात्रा निकाल कर अपनी गुटबाजी को जनता के सामने उजागर कर दिया। कालाढूंगी की रामलीला मैदान में जनता के लिए लगाई गई कुल 500 कुर्सियां भी नहीं भर पाई और सड़क पर ही कांग्रेस के नेता हरीश रावत ने भाषण देकर इस कमी को छुपाने का प्रयास जरूर किया लेकिन उनका यह प्रयास सफल नहीं हो पाया। बंशीधर भगत ने कहा कि कॉन्ग्रेस की कालाढूंगी विधानसभा में आयोजित होने वाली इस जनसभा के लिए पूरी तैयारियां की जा रही थी लेकिन जनता ने इस इस रैली को ही नकार दिया। रामनगर में जिस तरह से संजय नेगी और रंजीत रावत के गुटों में बंटी कांग्रेस से यह यात्रा दो भागो में विभक्त हो गई उससे सांप संदेश चला गया कि कांग्रेस को जनता कोई भी भाव नहीं दे रही है।


बंशीधर भगत ने यात्रा को फ्लॉप शो बताते हुए कहा है कि इस यात्रा में कांग्रेस का अंदरूनी कलह जिस प्रकार सार्वजनिक तौर पर खुल कर सामने आया है उससे साफ है कि कांग्रेस खंड खंड होकर पूरी तरह बिखर चुकी है। इसी के चलते कांग्रेस ने उत्तराखंड में अपने राजनीतिक अस्तित्व को बचाने के लिये जो परिवर्तन यात्रा प्रारंभ की वह भी फ्लॉप शो सिद्ध हुई और उसमें कांग्रेस की अंदरूनी गुटबंदी और खुल कर सामने आ गई । परिवर्तन यात्रा प्रदेश प्रभारी के सामने ही 2-2 गुटों में बटी दिखाई दी।

उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने परिवर्तन यात्रा निकाल कर प्रदेश में जो राजनीतिक लाभ उठाने का प्रयास किया वह उसके लिए और घातक सिद्ध हुआ। उन्होंने कहा कि यात्रा से यह भी साफ हो गया कि जनता भी कांग्रेस के साथ नहीं है ।यह बात जनता द्वारा यात्रा की गई उपेक्षा से स्पष्ट है ।कालाढूंगी में जब परिवर्तन यात्रा की जनसभा की गई तो वहां मुश्किल से 500 लोग थे और इनमें भी 400 से अधिक लोग अन्य स्थानों से लाए गए थे। यह जनता का कांग्रेस के प्रति रुख साफ करता है।

उन्होंने कहा कि यात्रा के दौरान हुए घटनाक्रम को लेकर कॉन्ग्रेस के पूर्व मुख्यमंत्री श्री हरीश रावत ने अपने घर में तीन देवता नाचने का जो बयान दिया और उसमें अपनी पार्टी के नेताओं श्री रणजीत सिंह, श्री संजय नेगी के नामों का उल्लेख किया ,से साफ हो गया है कि कांग्रेस के अंदर हालात कितने विकट हैं। श्री भगत ने कहा कि कांग्रेस द्वारा पिछले साढे चार साल में है जिस प्रकार गैर जिम्मेदाराना रवैया दिखाया गया, कोविड काल में नकारात्मक भूमिका निभाई गई और जनता को भ्रमित करने तथा भाजपा सरकार को बदनाम करने का जो प्रयास किया गया उसका खामियाजा कांग्रेस को निश्चित तौर पर उठाना पड़ेगा।।

प्रदेश की जनता मुख्यमंत्री श्री पुष्कर सिंह धामी के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी के साथ है और निकट भविष्य में होने वाले विधानसभा चुनाव में भाजपा 60 से अधिक सीटें प्राप्त करेगी। जबकि कांग्रेस दहाई का अंक भी नहीं छू पाएगी।।

उन्होंने कहा कि इस बुरी हालत से भी कांग्रेस नेता कोई सीख नहीं ले रहे हैं और उनका जन विरोधी रवैया बरकरार है। लेकिन जनता सब कुछ देख रही है और एक बार फिर वह विधानसभा चुनाव में कांग्रेस को करारी हार देखकर सबक सिखाने वाली है।
श्री भगत ने कहा कि भाजपा विकास के मुद्दे और अपनी उपलब्धियों के आधार पर चुनाव में उतरेगी । मा. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी का नेतृत्व व उत्तराखंड के प्रति लगाव हमारी शक्ति है।

Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *