जुमे की नमाज के बाद यूपी के कई शहरों में पत्थरबाजी, दिल्ली व कोलकाता में भी उग्र प्रदर्शन

ख़बर शेयर करें
News

नई दिल्ली: पैगंबर मोहम्मद पर विवादित टिप्पणी को लेकर चल रहे विवाद के बीच बीजेपी के निलंबित प्रवक्ता और उनके पूर्व सहयोगी नवीन कुमार जिंदल के विरोध में बड़ी संख्या में लोग दिल्ली की जामा मस्जिद के बाहर जमा हो गए। जहां शुक्रवार की नमाज के बाद दिल्ली में जामा मस्जिद के बाहर विरोध प्रदर्शन शुरू हो गए। वहीं, लोग टीवी पर बहस के दौरान शर्मा द्वारा की गई टिप्पणियों की निंदा करने के लिए यूपी के सहारनपुर में भी एकत्र हुए।

प्रयागराज, मुरादाबाद और सहारनपुर में हालात तनावपूर्ण 

एक हफ्ते पहले यूपी के कानपुर में बड़ा बवाल देखने को मिला था। इससे मद्देनजर आज यानी जुमे की नमाज को लेकर पुख्ता तैयारी की गई थी, जहां कानपुर में माहौल शांत रहा, लेकिन यूपी के कई हिस्सों में स्थिति तनावपूर्ण देखी जा रही है। प्रयागराज में नमाज के बाद भीड़ ने प्रोटेस्ट किया और जमकर पत्थरबाजी की गई। मुरादाबाद में उग्र भीड़ ने ‘नूपुर शर्मा को फांसी दो’ की तख्तियों-बैनर के साथ प्रदर्शन किया। सहारनपुर में जुमे की नमाज के बाद अल्लाह-हू-अकबर के नारे लगे। आसपास माहौल खराब हो गया और लोग अपनी दुकानों को बंदे करके चले गए। इसके बाद यहां पथराव भी किया गया।

खबर है कि यूपी के इन जिलों के अलावा भी कई और जिलों मे लॉ एंड ऑर्डर की स्थिति बन आई है। बता दें कि प्रयागराज में घरों से पुलिस पर पथराव किया गया। वहीं, सहारनपुर में भीड़ इतनी बढ़ गई थी कि पुलिस को लाठीचार्ज करना पड़ा, जिसके विरोध मे मुस्लिम समुदाय के लोगों ने पत्थरबाजी की। 

एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार क्या बोले?

यूपी के ADG लॉ एंड ऑर्डर बोले, ‘आज शांति बनी हुई है। बहुत सारी जगहों पर जुमे की नमाज अदा हो चुकी है। व्यापक पुलिस प्रबंध कराए गए हैं। लगभग 130 कंपनी PAC की तैनात है। सोशल मीडिया पर मॉनिटरिंग भी की जा रही है। मुस्लिम धर्म गुरुओं द्वारा भी सहयोग मिला है।’

उन्होंने आगे कहा, ‘हमने सौहार्दपूर्ण वातावरण में नमाज़ संपन्न कराने के लिए अपील की है। सहारनपुर में नमाज़ के बाद भीड़ हो गई थी जिसके बाद धीरे-धीरे लोग अपने घर लौट गए। कानपुर में स्थिति शांतिपूर्ण है।उन्नाव व कई जगहों पर पोस्टर के मामले में लगातार कार्रवाई हो रही है।’

दिल्ली की जामा मस्जिद में बड़ी संख्या में लोगों का विरोध प्रदर्शन, क्या बोली-मस्जिद कमेटी?

निलंबित भाजपा नेता नुपुर शर्मा और निष्कासित नेता नवीन जिंदल की भड़काऊ टिप्पणी के खिलाफ दिल्ली की जामा मस्जिद में बड़ी संख्या में लोगों ने आज विरोध प्रदर्शन किया। हालांकि, जामा मस्जिद के शाही इमाम का कहना है कि मस्जिद ने विरोध का कोई आह्वान नहीं किया। 

उन्होंने कहा, ‘मस्जिद कमेटी की ओर से विरोध का कोई आह्वान नहीं किया गया था। वास्तव में कल जब लोग विरोध करने की योजना बना रहे थे तो हमने उनसे स्पष्ट रूप से कहा था कि जामा मस्जिद (समिति) की तरफ से विरोध का कोई आह्वान नहीं है।’ वे कहते हैं, ‘हम नहीं जानते कि विरोध करने वाले कौन हैं, मुझे लगता है कि वे AIMIM के हैं या ओवैसी के लोग हैं। हमने स्पष्ट कर दिया कि अगर वे विरोध करना चाहते हैं, तो वे कर सकते हैं, लेकिन हम उनका समर्थन नहीं करेंगे।’

दिल्ली पुलिस क्या बोली?

दिल्ली पुलिस ने कहा कि लोगों ने जामा मस्जिद पर विरोध प्रदर्शन किया। हमने वहां से लोगों को हटा दिया है। स्थिति अब नियंत्रण में है। DCP सेंट्रल, श्वेता चौहान ने कहा, ‘यह लोग नवीन जिंदल और नूपुर शर्मा के विवादित बयान को लेकर प्रदर्शन कर रहे थे। हमने 10-15 मिनट में इस पर काबू पा लिया था। इन लोगों ने प्रदर्शन सड़क पर और बिना अनुमति के किया था जिस पर हम क़ानूनी कार्रवाई करेंगे।’

Ad
Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.