कांग्रेस,भाजपा और बसपा की परिक्रमा के बाद अब “आप” का हुआ यह दर्जा धारी, कपकोट से संभावित दावेदार

ख़बर शेयर करें

हल्द्वानी एसकेटी डॉटकॉम

बागेश्वर जिले के राजनैतिक गतिविधियां बदलने लगी है कभी कांग्रेस के दर्जा राज्यमंत्री के रूप में चर्चित रहे भूपेश उपाध्याय भाजपा बसपा की परिक्रमा करने के बाद अब आम आदमी पार्टी में शामिल हो गए हैं । भूपेश उपाध्याय में विगत दिनों दिल्ली में आम आदमी पार्टी के संयोजक एवं दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के समक्ष आम आदमी पार्टी की सदस्यता ली। भूपेश उपाध्याय मूल रूप से कपकोट विधानसभा के भतौड़ा गांव के रहने वाले हैं।

वह 2012 में विजय बहुगुणा के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार में दर्जा राज्यमंत्री थे इसके बाद उन्होंने कांग्रेस का साथ छोड़ दिया तथा भाजपा के सक्रिय कार्यकर्ता के तौर पर काम करना शुरू कर दिया 2017 में उन्होंने भाजपा से कफकोट सीट से दावेदारी की लेकिन पार्टी ने उन्हें टिकट नहीं दिया। पार्टी द्वारा टिकट नहीं दिए जाने के बाद उन्होंने बसपा को ज्वाइन कर चुनाव लड़ लिया लेकिन इसके बाद भी वह बसपा में नहीं रह पाए इस बार उन्होंने नया पैंतरा बदलते हुए राजनीतिक दलों को अचरज में डाल दिया है।

माना यह जा रहा है कि वह इस बार आम आदमी पार्टी से कपकोट विधानसभा से टिकट की दावेदारी कर रहे हैं के साथ पार्टी की ओर से वह संभावित उम्मीदवार भी माने जा रहे हैं पुलिस और आम आदमी पार्टी लगातार भाजपा कांग्रेस के नाराज रहे अथवा असंतुष्ट नेताओं को अपनी ओर आकर्षित कर रही है ताकि आगामी 2022 में वह इनकी ऊर्जा का लाभ लेकर प्रदेश में अपने पक्ष में माहौल तैयार कर सके।

भूपेश उपाध्याय कॉन्ग्रेस में यशपाल आर्य द्वारा लाए गए थे । यशपाल आर्य के खास लोगों में शुमार किए जाते थे। यशपाल आर्य के कांग्रेस को छोड़ देने के साथ ही उन्होंने भी कांग्रेस से किनारा कर लिया भाजपा में शामिल हो गए लेकिन भाजपा में भी उन्हें वह तवज्जो नहीं मिली जिसकी वह उम्मीद करते थे जिसके कारण उन्हें टिकट ही नहीं मिला ।

उन्होंने भाजपा के टिकट के दावेदार बलवंत सिंह भौर्याल के खिलाफ बसपा से चुनाव लड़ा लेकिन चुनाव में ने जीत हासिल की। कांग्रेस के सिटिंग विधायक ललित फर्सवाण को अपनी सीट गावनी पड़ीं।

Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *