आखिर क्यों पीटीए टीचरों को भाजपा जिला अध्यक्ष को सौंपना पड़ा ज्ञापन,जाने कारण

ख़बर शेयर करें

हल्द्वानी में भाजपा जिला अध्यक्ष प्रदीप बिष्ट को अशासकीय सहायता प्राप्त स्कूलों में मानदेय से वंचित पीटीए शिक्षकों को मानदेय की परिधि के लाने के संबंध में एक ज्ञापन दिया गया बता दें कि शिक्षकों का एक शिष्टमंडल ने भाजपा जिला अध्यक्ष को ज्ञापन देते हुए कहा कि शासनादेश में उल्लेखित बिंदु में पीटीए शिक्षकों को शिक्षक पात्रता परीक्षा उत्तीर्ण होना आवश्यक है जिसमें जिस प्रकार नियुक्ति के बाद शिक्षा बिंदु को अध्यापक पात्रता परीक्षा पास करने के लिए समय दिया गया हो उसी के आधार पर पीटीए शिक्षकों को भी पात्रता परीक्षा में छूट मिलनी चाहिए स्कूलों के प्रिंसिपल एवं प्रबंधकों की मनमानी के कारण काम करने वाले पीटीए शिक्षकों के पदों पर विज्ञापन जारी किया जा चुका है जिस में स्थाई नियुक्ति की जा सके इसमें उन्होंने कहा कि एक और सरकार गेस्ट टीचर उपनल तथा आउटसोर्सिंग के माध्यम से नियुक्ति करवा रही है

ताजा खबरों के लिए हमारे व्हाट्सएप ग्रुप से जुड़े

वहीं दूसरी ओर पीटीए शिक्षकों को हटाकर स्थाई नियुक्ति कर रोजगारी और सरकार के वित्तीय भार को बढ़ाने का काम कर रही है विज्ञापनों को तत्काल निरस्त्र कर पीटीए शिक्षकों को जगह मिलनी चाहिए इसी विषय में आगे उन्होंने कहा कि लंबे समय से काम कर रहे पीटीए शिक्षक इस बीच में लंबे समय से सेवा दे रहे हैं कि उनका जीवन यापन करने के लिए यही मार्ग है और इसी आशाओं में ज्यादातर टीचरों की रोजगार पाने की उम्र सीमा पूरी हो चुकी है और इनके पास अब कोई रोजगार का दूसरा जरिया भी मौजूद नहीं है बता दें कि ज्ञापन देने वालों में अध्यक्ष गिरीश चंद्र शर्मा गिरीश विश्वकर्मा गीता आर्य रामचंद्र आदि लोग मौजूद रहे

Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *