पाकिस्तान के इस इलाके में बर्फीले तूफान से 10 बच्चों समेत 21 लोगो की हुई मौत

ख़बर शेयर करें

इस्लामाबाद एसकेटी डॉट कॉम

पाकिस्तान की पंजाब प्रांत की मुरी इलाके में बर्फीली हवाएं ने तूफान का रूप ले लिया जिससे इस इलाके में शेर का मजा लेने आए 1000 टूरिस्ट वाहन जगह जगह फंस गए हैं। यह वाहनों में बच्चों समेत महिलाएं और पुरुष ठंड से जम जाने के कारण मौत के मुंह में चले गए। जिसके बाद पाकिस्तान सरकार ने क्षेत्रीय लोगों के अलावा सरकार को सक्रिय करते हुए इन लोगों को गर्म कपड़े कंबल तथा रेस्क्यू सेंटर में हीटर आज की व्यवस्था शुरू कर दी है।

इस इलाके में कार में बैठे बैठे 10 बच्चों समेत 21 लोगों के मरने की खबर आ रही है। बीबीसी के सूत्रों के हवाले से खबर मिली है कि लोग कारों में बैठे-बैठे जम जाने से मरने लगे हैं तथा यह इलाके में फंसे लोग इस तरह के वीडियो को वायरल कर रहे हैं। पाकिस्तान सरकार के गृह मंत्री ने कहा कि क्षेत्रीय लोगों से अनुरोध किया गया है साथ ही सरकार को भी अलर्ट मोड में रख दिया गया है 2-3 सेंटरों में गर्म ऊनी कपड़ों,कंबलों की व्यवस्था की गई है।

इस घटना में एक पुलिस के सिपाही के पत्नी और बच्चों समेत छह लोगों के मारे जाने की सूचना है इसके अलावा एक अन्य परिवार के 5 लोगों के भी मरने की खबर आई है। पाकिस्तान के गृह मंत्री शेख राशिद ने बताया कि ब्रिटिश कॉलोनियल शहर मूरी मैं बर्फबारी का आनंद लेने के लिए एक लाख से ज्यादा वाहन पहुंचने से यह स्थिति बनी शनिवार को वापस लौटते वक्त बर्फीले तूफान में यह सभी लोग फंस गए जानकारों के मुताबिक यहां टूरिस्टो के अलावा लोकल लोगों के वाहन भी फंसे हुए हैं। सेना को रेस्क्यू में लगाया गया है।

रावलपिंडी के डिप्टी कमिश्नर ने जानकारी दी है कि अब तक 23000 वाहनों को रेस्क्यू कर लिया गया है। वही डीएसपी मूरी की ओर से जानकारी दी गई है कि 4 फुट तक की बर्फ जम चुकी है और सैकड़ों पेड़ गिरने से यातायात व्यवस्था चरमरा गई है। मुरी एक हिल स्टेशन है जो कि 75000 की ऊंचाई पर अंग्रेजों द्वारा अपने बेस कैंप बनाया गया था पर्यटन के लिए यह काफी अच्छा खासा आमदनी वाला इलाका है।

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कहा कि वह इस घटना से सदमे में है तथा सेना को ज्यादा से ज्यादा लोगों को तुरंत रेस्क्यू करने तथा उन्हें सरकारी भवनों तथा स्कूलों में टिका कर उन्हें गर्म कपड़े भोजन तथा कंबल इत्यादि की व्यवस्था करने को कहा गया है।

Ad
Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *