दो लाख तक महंगी होने वाली हैं इलेक्ट्रिक कारें, ये है वजह

ख़बर शेयर करें

पिछले महीने जब अक्टूबर के महंगाई के आंकड़े जारी हुए तो आम आदमी से लेकर खास आदमी ने राहत की सांस ली थी और ये कयास लगाए जाने लगे थे कि दुनिया भर में आ चुकी मंदी का असर भारत पर नहीं पड़ेगा, लेकिन अब ये कहानी पुरानी होती नजर आ रही है। इसी महीने के शुरुआत में छोटी बजट की कार बनाने वाली कंपनी मारुति और टाटा से लेकर लक्जरी कार कंपनी मर्सिडीज और ऑडी ने जनवरी से कार की कीमतों में इजाफा करने को कहा है।


इन सब के बीच ईवी इंडस्ट्री से एक चौंकाने वाली खबर आई है। महंगे होते ईंधन की कीमतों से निपटने के लिए सरकार ईवी गाड़ियों को बढ़ावा दे रही है, लेकिन अब ईवी गाड़ियों में इस्तेमाल होने वाली बैटरी के दाम बढ़ने जा रहे हैं।


बैटरी की कीमतें बढ़ने से सीधा असर ईवी वाहनों पर पड़ेगा। खबरों की माने तो 7 से 10 फीसदी तक ईवी के दाम बढ़ सकते हैं, यानि अगर आप कोई कार लेने की सोच रहे हैं और उसकी कीमत 20 लाख रुपये है तो आपको अब 22 लाख रुपये चुकाने पड़ सकते हैं। इसका असर सिर्फ कार पर नहीं दोपहिया और तीन पहिया वाहनों पर भी पड़ेगा।


शेयर बाजारों को भेजी सूचना में मारुति ने इसी महीने के शुरुआत में कहा था कि कुल महंगाई और हालिया नियामकीय जरूरतों के बीच कंपनी पर लागत दबाव बढ़ा है। यानी 31 दिसंबर तक अगर आप मारुति की कार बुक करते हैं तो आपको बढ़ी कीमत नहीं देगी होगी। वहीं, 1 जनवरी 2023 से आपको अधिक कीमत चुकानी पड़ेगी। माना जा रहा है कि कीमत में 1 से 2 फीसदी की बढ़ोतरी कंपनी कर सकती है।

Ad Ad Ad
Ad

Leave a Reply

Your email address will not be published.